कई चुनौतियों मेरे सामने है: रितु दुदानी

प्रेम बाबू शर्मा 

 करीबन दो वर्ष पूर्व चंडीगढ से मायानगरी की ओर कूच करने वाली रितु का शुरूआती  सफर चुनौतीपूर्ण रहा, लेकिन आज उनकी पहचान अपने बलवूते पर है। रितु ने अपने अभिनय की का शुरुआत  कुछ नामचीन विज्ञापनों से की । उनकी मेहनत भी रंग लाई  और उनको टीवी धारावाहिकों के प्रस्ताव भी मिलने लगे। लेकिन वे अपने अब तक के सफर से खुश हैं। इन दिनों वे सहारावन के लोकप्रिय शो  ‘बिट्टो’ के शीर्ष पात्र ‘बिट्टो’ को निभा रही। सामाजिक भेदभाव के विरूद्ध कहानी पर आधारित इस  
शो  में काफी फेरबदल हुआ है और अब इसकी कहानी गांव से शहर  में शिफ्ट कर गयी है। इसमें कई नए कलाकर जुडे़ हैं। एक मुलाकात में उन्होने अपने बारे में कुछ जानकारी दी जानते है उनकी ही जुबानी:

पल्लवी की  जगह नयी बिट्टो के रूप में जुडकर कैसा महसूस कर रही है?
इस शो  से जुडकर स्वयं को गौरन्वित महसूस कर रही हूँ । हालांकि नयी बिट्टो का किरदार मेरे लिए चुनौती है।  इस शो में मुझे अच्छा काम करने का मौका मिला है तो मैं दर्शकों की कसौटी पर खरा उतरने की पूरी कोशिश करूंगी।

लेकिन पहले इस किरदार को पल्लवी निभा रही थी और अब आप । इस फेरबदल की खास वजह ?
इस बारे में मुझे से ज्यादा  बेहतर तो निर्माता निर्देषक ही बता सकता है। लेकिन मुझे सिर्फ इतनी जानकारी है कि कहानी में कुछ बदलाव के चलते पुराने किरदारों की जगह नये किरदारो का चयन किया गया है।

सर्वप्रथम अपने शो ‘बिट्टो’ के बारे में बताइये?
यह एक भावनात्मक धारावाहिक है जिसका ताना बाना सामाजिक भेदभाव के विरूद्ध बुना गया है। इस शो की नायिका जात-पात की परंपरा की शिकार  हो जाती है और उसके बाद उच्च वर्ग के ठाकुरों के विरूद्ध आवाज उठाती है। नयी कहानी में भी बिट्टो को मैच्योर और सेंसिबल  दिखाया गया है। वह अपने ससुराल में सभी को खुश  देखना चाहती है। इस शो में आने वाले दिनों  में कई ट्विस्ट आयेंगे और बिट्टो की कहानी दर्षकों के मन पर अच्छा खासा असर छोडे़गी।

क्या आप असल जिंदगी में बिट्टो जैसी हैं ?
मैं बिल्कुल बिट्टो की तरह हूं।  एक लड़की होने के नाते मैं खुद को मैच्योर और शक्तिशाली  समझती हूं।  लड़कियां आज सभी जगह कामयाबी का परचम लहरा रही हैं।  छोटे परदे पर भी उनकी अलग पहचान है।

अभिनय के क्षेत्र में आपने कैसे एंट्री की?
मैं मुंबई यानि की मायानगरी में पिछले दो वर्षों से हूं।  पहले चेहरा, आपकी अंतरा और फिर बंदिनी जैसे शो मिले और इसी दौरान लक्स, एलजी, एवरेस्ट मसाला, अयूर शम्पू  और पेप्सी की एड रणबीर कपूर और दीपिका पादुकोन के साथ की। इस प्रकार मेरी मायानगरी में एंट्री हुई।

आपको किस तरह की भूमिकाएं पसंद हैं?
मुझे विविध रंगों वाले करेक्टर निभाने में मजा आता है। मैंने हमेशा यही कोशिश की है कि अपने किरदार को रियलिस्टिक तरीके से निभा सकूं।  ‘बिट्टो’ मेरे लिए कई मायनों में खास है।  मुझे पहली बार एक डिफरेंट किरदार करने का मौका मिला है।  इसकी कहानी दूसरे शोस  से अलग है।  यूं समझ लीजिए कि मैं खुश  हूं इस तरह की भूमिका निभा कर।

इसके अलावा आप और कोई शो भी कर रही हैं?
नहीं, फिलहाल तो मैं सहारा वन के इसी शो  ‘बिट्टो’ में व्यस्त  हूं। डेली सोप के कारण सुबह से रात तक षूटिंग का सिलसिला जारी रहता है। इस टीवी शो  करने के बाद में  महीने में सिर्फ दो-चार दिन ही आराम करने को मिलता है।

Leave a Reply