औषधीय पौधे के प्रति जागरूकता

प्रेमबाबू शर्मा

 छात्रों को पर्यावरण के प्रति जागरूक करने के मकसद से एक कार्यशाला का आयोजन बाहरी दिल्ली मुलतान नगर स्थित सर्वोदय बाल विद्यालय में किया गया। कार्यशाला का आयोजन सामाजिक संस्था नवनी फाऊंडेऊशन फॉर पीस एंड हेल्प फॉर ओल्ड ऐज पीपल व इंडियन इन्वायरमैंटल सोसाईटी पर्यावरण एवम वन मंत्रालय ने किया । कार्यशाला में मुख्य अतिथि जे.पी.डबास (वरिष्ठ विज्ञानिक पूसा इन्स्टीटयूट ) ने पर्यावरण और औषधीय पौधे की उपयोगिता व महत्व के बारे में जानकारी दी। छात्रों ने डबास के विचारों में रूची दिखायी व विषय से संबधिंत प्रश्न पूछें । कार्यशाला में डा. रामअवत (शिक्षा निदेशालय),राजेश चौहान,सुखवीर सिंह,डा.राकेश राही ,व विद्यालय के प्राधानाचार्य भी विचार व्यक्त कियें।

कार्यशाला के अंत में संस्था के संचालक जे.पी.शर्मा की देखरेख में कार्यशाला में भाग लेने वाले अतिथिगण व छात्रों ने 200 औषधीय पौधे जैसे तुलसी, महुआ, पत्थरचटटा, ग्वारापाठा, लेमनग्रास, रोपण करं एक हर्बलहब तैयार  किया। विद्यालय के छात्रों प्रधानाचार्य व अन्य अतिथियों के सहयोग से कार्यशाला संपन्न हुई। इस सहयोग ने संस्था को नई उर्जा मिली जिससे संस्था के संचालक ने भविष्य में इस प्रकार के विषयों पर समाज को संचेत करने  व सहयोग देते रहने का विश्वास दिलाया।

Leave a Reply