वानी के सुर सुरीले

प्रेमबाबू शर्मा 

सर्वश्रेष्ठ गायिका के लिए अनेक पुरस्कारों से सम्मानित वानी कौर किसी परिचय की मोहताज नही है । अपनी कई अलबमों की सफलता के बाद में वे फिल्मों में आईटम नंबर गाने की चाह रखती है। हाल में ही टी सीरिज द्वारा रीलिज उनका एक अलबम ‘जीटी रोड’ युवाओं को खासा लुभा रहा है।
वानी कहती है कि अलबम जीटी रोड की कंपोजिग ही गजब की है और ऊपर से लिखा दमदार गीत ने अलबम को नया ही रंग दिया है। वैसे भी अलबम में ‘अलग अलग मूड के गीत है । लेकिन अलबम में मेरा गाया एक ही भंगडा है। लेकिन मुझे खुशी है कि श्रोताओं को मेरा गीत लुभा रहा है। अलबम में अन्य गीतों को स्वर दिया हैं जैवी सिंह,दिलबाग सिंह और अमृत सिंह ने। जीटीरोड अलबम के गीतों के प्रमोशन के लिए निर्देशक अमृत सिंह ने कई गीतों के विडियों भी तैयार किये है।

इन दिनों वानी अपनी एक अन्य अलबम के गीतों की रिकार्डिग में व्यस्त है। वानी प्रसन्नता व्यक्त करती है,यकीन मानिऐ, मुझे यह व्यस्तता बहुत अच्छी लग रही है। एक साथ कई अलबमों  मे अलग तरह के गीतों से मुझे अपनी गायकी के विभिन्न रंग दिखाने का मौका मिल रहा है। इतना ही नही,लोकप्रिय अलबमों का हिस्सा बनकर एक अच्छी पहचान मिली है। अब लग रहा कि मेरी मेहनत रंग ला रही है। वानी कहती है कि मैं पूरी तरह से गायन के प्रति समर्पित हूँ । और मेरा भी यही प्रयास रहता है कि अधिक से अधिक समय गायिकी अभ्यास के लिए दे।
कम ही उम्र में कई अलबम में अपनी गायकी का रंग दिखा चुकी वाणी को अपना अब तक का सफर कैसा लगता है?
वे हंस कर बोली एक सपने की तरह। क्योंकि मात्र दो साल में ही मेरे कई अलबम बाजार रीलिज हो चुके है। जिसमें रूह,सेवक की अरदास,माही के गीत तो आज भी गुणगुणाये जाते है। यह देखकर अच्छा लगता है।
आशा भौंसले और सुनिधि चौहान से प्रभावित वाणी शीला की जवानी आइटत नंबर से खासी प्रभावित है वह मानती है कि आइटम नंबर , फिल्मों में समय की मांग है।

Leave a Reply