अन्ना के समर्थन में…जन-जन की आवाज

एक, दो, तीन,चार बंद करो ये भ्रष्टाचार
अन्ना नहीं आंधी है, देश का दूसरा गांधी है।
सरकारी लोकपाल धोखा है, अभी बचा लो मौका है
यह कैसा स्वराज? भ्रष्टाचारियों के सिर पर ताज
तू भी अन्ना, मै भी अन्ना।
उठे हाथ लगे नारे, जीतेंगे अन्ना हजारे
अन्ना हजारे मत घबराना, तेरे पीछे सारा जमाना
करप्शन एक वायरस है, अन्ना एंटी वायरस है
ये अंदर की बात है, पुलिस हमारे साथ है
गली-गली में जाना है , भ्रष्टाचार मिटाना है
जन-जन की यही पुकार, साफ करो अब भ्रष्टाचार
मैं भी अन्ना, तू भी अन्ना। अब तो सारा देश है अन्ना
एक दो तीन चार, बंद करो ये भ्रष्टाचार 

Leave a Reply