एक दुसरे के खिलाफ ब्यानबाजी करने वाले लोगों के खिलाफ कर्रवाही हो: सरदार कुलदीप सिंह

 प्रेमबाबू शर्मा 
शिरोमणी अकाली दल दिल्ली प्रदेश के पूर्व महासचिव सरदार कुलदीप सिंह आंनद ने कहा ने पिछले दिनों अखबारों में प्रकाशित समाचार अकाली दल के सीनियर नेता स.अवतार सिंह हित व स.मनजीत जीके ने दिल्ली सिख गुरूद्वारा प्रबंधक कमेटी के सदस्य स. सतनाम सिंह औलख के साथ मार पीट गाली गालौच व उन 25 लाख रूपये गबन के आरोप जैसे घिनौने आरोप लगाये।
स.आनदं ने इस दुखदायी घटना पर अपना रोष प्रकट करते हुए कहा कि एक सिखी स्वरूप वाले गुरू नानक नाम लेवा, नितनेमी गुरू सिख पर स.अवतार सिंह हित जो कि खुद एक अमृतधारी गुरूनानक नाम लेवा सिख है पर ऐसे धिनौने आरोप लगाना यह साबित करता है कि सिख नेता एक दूसरे पर कीचड उछालते हुए यह भी नही सोचते कि इससे पूरी सिख कौम सर शर्म से झुक जाता है यह सिख नेता ये साबित करना चाहते है कि पिछले विधान सभा चुनावों में स. हित ने नोट व शराब के बल पर वोटों की राजनीती की थी।

स.आंनद ने कहा कि इन नेताओं ने पंजाब की साफ सुथरी छवि वाले बेदाग नेता स.हीरा सिंह गबडीया जिनका जीवन ही अकाली दल बादल व सिख कौम को समर्पित है जिन्होंने दिन रात एक करके चुनाव का माहौल ही बदल दिया था। ऐसे कदवार नेता पर अवतार सिंह हित का चुनाव हराने को आरोप लगाना शर्मनाम है

स. आनंद ने अपना पक्ष रखते कहा कि उन पर भी कभी औकंर सिंह थापर तो कभी स. हीरा सिंह गबडीया का समर्थक होने का इनाम पार्टी से बाहर का रास्ता दिखा दिया जाता है । जबकि वह शहीदों की जत्थेबंदी शिरोमणी आकली दल बादल के सिपाही है व सदैव पार्टी व सिख कौम की निस्वार्थ सेवा करते रहे है और करते रहेगें।

उन्होंने अकाली दल दिल्ली इकाई के इन नेताओं की पोल खोलते हुए कहा इनका अपना बाजूद नही, और ओछी राजनीतीक ही उनका मकसद है इनकी छवि इतनी अधिक धूमिल है कि वे हार के डर से चुनाव लडने से मना कर देते है और कुछ सीनियर नेताओं की चापलूसी करके शिरोमणी कमेटी व पंजाब सरकार में उच्च पद पाने की ताक में रहते है। उन्होंने शिरोमणी अकाली दल बादल के अध्यक्ष स.सुखवीर सिंह बादल यह मांग की वह एक दूसरे पर कीचड उछालने वाले व पार्टी की छवि की धूमिल करने वाले इन नेताओं पर लगाम कसे और दिल्ली इकाई का पूर्ण गठन करके स्वच्छ छवि व पार्टी के प्रति समर्पित व सिखपंथ व देश की सेवा करने वाले नेताओं को आगे लाये।

Leave a Reply