सब टीवी पर ‘चिडि़याघर’


प्रेमबाबू शर्मा 

सब टीवी पर 28 नवंबर शुक्रवार रात 9.30 बजे से एक नया धारावाहिक ‘चिडि़याघर’ का प्रसारण होगा।
चिडि़याघर एक  अति   पारिवारिक हास्यपूर्ण शो है जो इस समझ पर आधारित है कि सभी मानव में कुछ-न-कुछ अन्य पाशविक प्रवृत्ति होती है और हमारी मनुष्यता ही हमें जानवरों से अलग करती है। कुछ ऐसे लोग हैं जो बंदरों की तरह चंचल होते हैं तो कुछ दूसरे ऐसे भी हैं हाथियों जैसे पेटू होते हैं। चिडि़याघर में प्रेम, दूसरों के प्रति आदर, धीरज और परिवार एवं घनिष्ठता के सही मायनों जैसी बुनियादी इंसानी खूबियों का चित्रण किया गया है, जिनकी बदौलत हम मनुष्य कहलाते हैं। इस शो में राजेंद्र गुप्ता, सुमित अरोड़ा, परेश गणात्रा, शिल्पा शिंदे, देबिना मुखर्जी जैसे मुख्य कलाकारों के साथ अनेक अन्य कलाकार अभिनय कर रहे हैं।


सब टीवी के कार्यकारी वाइस प्रेसीडेंट एवं बिजनेस प्रमुख, श्री अनुज कपूर ने कहा कि, ‘‘हम दर्शकों को हल्के-फुल्के कंटेंट मुहैया कराते हैं, जो पूरे परिवार के मन को भाते हैं और हमारी यह ताजा पेशकश चिडि़याघर भी नई अवधारणाओं पर आधारित है, जो इस अनोखी समझ के इर्द-गिर्द घूमती है कि मनुष्यों में भी जानवरों की प्रवृत्ति पायी जाती है और यह हमारी मान्यताएँ एवं संस्कृति ही है जो हमें जानवरों से जुदा करती है। इसका हर चरित्र दर्शकों को अपने किसी जाने-पहचाने व्यक्ति की याद दिलाता है। वे सभी इतने करीब लगते हैं कि हमारी उम्मीद के मुताबिक दर्शक तुरंत खुद को उससे जुड़ा हुआ महसूस करेंगे।‘‘

डा. अश्विनी धीर ने कहा कि, ‘‘मैं मानता हूँ कि यदि आप बारीकी से देखें तो पाएंगे कि हममें सभी के अंदर कुछ-न-कुछ दूसरे जानवरों के लक्षण हैं और यह गलत एवं सही के अंतर को समझने की हमारी क्षमता ही है, जो हमें जानवरों से अलग करती है। यह शो हमें उन मूल्यों की याद दिलाने की एक कोशिश है जो हमें मनुष्य बनाते हैं।‘‘

गरिमा प्रोडक्शंस के अश्विनी धीर द्वारा निर्मित एवं निर्देशित ‘चिडि़याघर’, रिटायर्ड प्रिंसिपल श्री केसरी नारायण की पत्नी, स्वर्गीया श्रीमती चिडि़या नारायण की याद में बने एक घर का नाम है। इसकी कहानी केसरी, उसके दो बेटों-गोमुख एवं घोटक, इन दोनों की पत्नियों-मयूरी एवं कोयल, छोटे बेटे कपि, पोते गिल्लू एवं गज, बेटी मैना एवं दामाद तोता के बारे में है। संयोगवश, उनके नाम जानवरों के नाम से मेल खाते हैं जैसा कि किसी-न-किसी जानवर के लक्षणों के अनुसार हरेक व्यक्ति के नाम से झलकता है।

Leave a Reply