द्वारका के मेट्रो स्टेशन सैक्टर – 10 में माक ड्रिल

15 फरवरी 2012, द्वारका। राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में अब तक का सबसे बड़ी माक ड्रिल किया गया। राष्ट्रीय आपदा प्रबंधन प्राधिकरण और दिल्ली आपदा प्रबंधन प्राधिकरण की ओर से द्वारका के मेट्रो स्टेशन सैक्टर – 10 के साथ-साथ राजधानी के अन्य पाँच मेट्रो स्टेशनों सहित कई स्थानों पर सुबह 11:30 बजे माक ड्रिल का आयोजन किया गया। दिल्ली इंस्टीट्यूट ऑफ फायर इंजीन्यरिंग के उपाध्यक्ष कैप्टन कृष्ण कुमार ने बताया की इस माक ड्रिल में बेहतरीन समन्वय का प्रदर्शन कर आपदा प्रबंधन एजेंसियों ने दूसरी एजेंसियों की सतर्कता एवं तैयारियों को परखा गया। उन्होने बताया कि इस माक ड्रिल की सबसे बड़ी विशेषता यह थी कि आपदा प्रबंधन से जुड़े तमाम निजी और सरकारी संस्थाओं का आपसी तालमेल बहुत ही बेहतर था। दरअसल, माक ड्रिल में इस बात की तैयारियां देखी गयीं कि यदि 7.2 तीव्रता का भूकंप आ जाए तो किस तरह हालात को संभाला जाएगा। माक ड्रिल का मकसद अचानक 7.2 तीव्रता का भूकंप आ जाने पर एजेंसियों की तैयारियों को परखना था।

दिल्ली में करीब 400 स्थानों पर एक साथ भूकंप से होने वाली तबाही से निपटने के लिए ये माक ड्रिल किया गया। जिसमें करीब50 हजार लोग शामिल हुए। इस माक ड्रिल के दौरान सरकार के तमाम विभागों और बचाव एजेंसियों की ओर से राहत और बचाव का नजारा पेश किया गया। इस दौरान लोगों को सिखाया गया कि वे कैसे राहत और बचाव के कार्य को अंजाम दें। ऐसे मौके पर भगदड़ नहीं होने दें। लोगों को सुरक्षित बचाने की कोशिश की जाए। अधिकारियों के मुताबिक इस ड्रिल में भूकंप के दौरान फ्लाई ओवर्स के गिरने, मेट्रो पिलर में दरार पड़ने और रिहायशी इमारतों के गिरने जैसे हालात में लोगों को सुरक्षा देने और स्थिति को संभालने का अभ्यास करायागया। दक्षिण जिला में छतरपुर स्टेशन को आधे घंटे के लिए बंद किया गया। पीवीआर साकेत, संगम विहार, लाजपत नगर सेंट्रल मार्केट,एमबी रोड, रिंग रोड, मालवीय नगर व कालकाजी मार्केट में माक ड्रिल किया गया। उत्तर-पश्चिम जिला में रोहिणी जेल के सामने बादली रोड, मंगोलपुरी फ्लाईओवर के पास भी माक ड्रिल किया गया।
नई दिल्ली जिला में खान मार्केट मेट्रो स्टेशन को आधे घंटे के लिए बंद किया गया था। खान मार्केट, चाणक्यपुरी, कनॉट प्लेस और रेसकोर्स में माक ड्रिल किया गया। पूर्वी जिला में कड़कड़डूमा मेट्रो स्टेशन को आधे घंटे के लिए बंद किया गया था। अक्षरधाम, विकास मार्ग, झील, कोंडली, आनंद विहार बस अड्डा, गांधी नगर मार्केट व मयूर विहार पॉकेट-4 मार्केट ड्रिल के चलते प्रभावित रहा। साथ ही साथउत्तरी जिला में इंद्रलोक स्टेशन, यमुना बाजार फ्लाईओवर, फूलमंडी मोरी गेट भी प्रभावित रहा। उत्तर पूर्व जिला में जीटीबी, यमुना विहार,नंद नगरी, शास्त्री पार्क में ड्रिल का असर देखने को मिला । पश्चिम जिला में पंखा रोड, नजफगढ़ रोड पर ड्रिल किया गया। दक्षिण पश्चिम जिला में धौलाकुआं, कापसहेड़ा, पालम फ्लाईओवर से महिपाल पुर, द्वारका मोड़ पर ड्रिल की वजह से ट्रैफिक धीमा रहा। सेंट्रल जिला में एमसीडी सिविक सेंटर, आईटीओ स्थित वैट बिल्डिंग और लिबर्टी सिनेमा के आसपास ड्रिल की वजह से जाम जैसी स्थिति रही। राजधानी के छह मेट्रो स्टेशन लगभग आधे घंटे तक बंद रहे. मध्य, दक्षिण और उत्तर दिल्ली के कई सड़क मार्गों को भी माक ड्रिल के दौरान बंद कर दिया गया था जिससे लोगों को परेशानियों का सामना करना पड़ा।

प्रस्तुति : द्वारका परिचय डेस्क

Leave a Reply