कार्यक्रम उम्र नई दौर पुराना में मेंहदी हसन को श्रद्वाजंली दी

प्रेमबाबू शर्मा 


‘उम्र नई दौर पुराना’ संगीतमय संध्या का आयोजन इस्लामिया कल्चर सेंटर लोदी रोड में हुआ। कार्यकम का तकसद था पुराने गीतों ताजा करना। संध्या का आरम्भ गायक हरदीप सिंह अरोडा ने मशहूर गजल गायक मेहँदी  हसन को उनकी ही एक गजल प्यार भरे दो गाकर श्रद्वालंजि दी। गायिका हरजोत कौर, हमीद तरीन व अंकुर गुप्ता ने भी पुराने गीतों की प्रस्तुति दी। 
मंच पर गीत हरजोत कौर ने जब ‘आयेगा आयेगा आने वाला आयेगा …गीत गाया तो पूरा हाल तालियों  से गूंज उठा। उसके बाद हरजोत ने लगतार आठ एकल गीत ‘पान खान खाये सैया.हमार,..जरा होले चलो मेरे साजना…नैना बरसे रिमझिम …..आओ हुजूर तुमको सितारो मे चलू…..और अंत में एक हीर गीत ‘डोलियां चढके….प्रस्तुत किया तो पूरा हाल एक फिर से तालियों से गूंज उठा।

संगीत संध्या में मंुमई के हमीद खान तरीन ने भी आठ सोलो आठ डयूट हरजोत के साथ सुनाये। अंकुर गुप्ता द्वारा गाया गीत ‘पल पल दिल के पास तुम रहती हो… और ‘गुलाबी आंखे… पर श्रोता झूम उठे।

समारोह का आयोजन इस्लामिया कल्चर सेंटर के निदेशक कहकशां त्यागी के तत्वाधान में आयोजित हुआ था। इस मौके पर शिखा विश्वास, कथक नालिनी कमलिनी,सिमी,परवीन अरोडा सहित अनेक गणमान्य लोग मौजूद थे।

बातचीत के दौरान गायिका ने बताया कि ऐसे ही कार्यक्रमों के कारण गीत गीत जिन्दा है। मै नई उम्र की होने के बाद भी मेरी पंसद पुराने गीत है। जो आज भी पुराने के बावजूद ताजगी भरे है इसीलिए कहते है कि ओल्ड इज गोल्ड है।

Leave a Reply