अंदर की बात में “श्रद्धा”


प्रेमबाबू शर्मा

नई दिल्ली:- युवा कलाकार सुनील कुमार के द्वारा बनाई गई “अन्दर की बात” नामक प्रदर्शनी का आयोजन आई.सी.सी.आर. आजाद भवन नज़दीक आई.टी.ओ. दिल्ली में किया गया। इस अवसर पर कलाकार सुनील कुमार ने बताया की प्रदर्शनी में श्रद्धा को केन्द्र बिन्दु मानकर पेटिंग बनाई गई है। जैसा की आप जानते है की भारतीय संस्कृति में श्रद्धा एक महत्वपूर्ण तत्व है। जिसमें आशक्ति या आदर की भावना सुधारात्मक व रचनात्मक रुप लेती है। यह हममें सम्पर्ण की भावना व विश्वविनयता ला देता है। 

मोटे तौर पर इन पेटिंग्स में अधिकतर दिव्य नर-नारी की सुन्तदता को दिखाने का प्रयास किया गया है। इस रिश्ते में श्रद्धा के पुट का प्रभाव दिखाकर इसके प्रभावो की ओर आय जनेा को ले जाया जा सकता है।
श्रद्धा मेरी कला की बुनियाद रही है। जो मुझे अपने माता-पिता से विरासत में मिला है। अतः यह प्रदर्शनी उन्हीं को समर्पित है। प्रदर्शनी में 20 से ज्यादा पेटिंग्स प्रदर्शित की गई है। सभी में कोई ना कोई संदेश है।
प्रदर्शनी 17 अक्टूबर तक चलेगी।

Leave a Reply