पंजा प्रतियोगिता में रविंद्र सिंह औरआकाश बने सबसे ताकतवर खिलाड़ी

पंजा कुश्ती संघ नईदिल्ली के तत्वाधान में टायसन जिम द्धारा 22वी ओपन दिल्ली राज्य पंजा कुश्ती का आयोजन 25 नवम्बर को सेक्टर 20, रोहिणी में किया गया जिसमे दिल्ली के विभिन्न स्कूल, कालेज, जिम,

क्लब आदि के 175 से भी अधिक खिलाड़ियों, और अधिकारियों ने भाग लिया भारी संख्या में दर्शकों ने भी खिलाडियों का उत्साह बढाया। प्रतियोगिता को उदघाटन  क्षेत्र के विधायक श्री अनिल झा ने किया और खिलाडियों ओर आयोजकों को प्रोत्साहित करते हुए  पंजा खेल को और अधिक बढावा देने के लिए अपने सहयोग का पूरा आशवासन दिया उन्होने विजेताओं को नकद पुरुस्कार भी प्रदान किए। निगम पार्षद श्री देवेंद्र सोलंकी ने भी खेल का भरपुर आंनद लिया और खिलाड़ियों को राष्ट्रिय और अन्तराष्ट्रीय स्तर पर पदक पाने के लिए प्रोत्साहित किया। इस अवसर पर टायसन जिम के भुपिंदर राजपुत, रवि राजपूत, सुरेद्र, जैलिस, और सुनिल कुमार, ने विजेताओं को पुरस्कार वितरित किए और योगेश कुमार, संदीप सिंह, मोनू, हिमांशु ,भुपिंदर सिंह, सैबी, और ठाकुर ने प्रतियोगिता का सफलतापूर्वक संचालन किया।

संघ के मुख्य सचिव और प्रशिक्षक  लक्ष्मण सिंह भंडारी ने कहा कि प्रतियोगिता बेहद रोचक  रही और भारी  संख्या में नए खिलाड़ियों का भाग लेना और दर्शकों  की भारी भीड़  इस बात का प्रमाण है कि पंजा खेल के     प्रति लोगो की रूचि तेजी से बढ़ रही है। इस प्रतियोगिता  के  विजेताओं मे जूनियरवर्ग के 50 किलो में प्रभजोत सिंह, तरूण, नवीन 55 किलो में विनोद, लक्ष्मण, तरूण सिंह 60 किलो में मुकुल, उदित चेट्टी, राजेंद्र 65 किलो  में रोहित शेरोन, संदीप प्रसाद, सचिन मान सिंह 70 किलो में आकाश , विजेंद्र, राहुल सागर सीनियर वर्ग में 55 किलो में ललित कुमार, विनोद कुमार, सूरज कुमार 60 किलो में मोनू, जतीन बाबू, विनोद कुमार 65 किलो में संदीप सिंह, ललित, तरनजीत सिंह, 70 किलो में अर्जुन सिंह, योगेष, विजेंद्र 75 किलो में जगजीत सिंह, संदीप शेरोन ,राजेंद्र सिंह 80 किलो में भुपिंदर सिंह, वासुदेव  85 किलो में चेतन बजाज, सरबजीत सिंह, अक्षय सपरा और मास्टर वर्ग में अनिल कुमार और कैलाश मोहन पांडे कमश: पहले स्थान पर रहे। सब से ताकतवर खिलाड़ी की खिताबी टक्कर में सीनियर वर्ग में रॉयल स्पोर्टस क्लब के  रविंद्र सिंह  और जूनियर वर्ग में टायसन जिम के आकाश पारचा ने कब्जा जमाकर ट्राफी अपने नाम की।

Leave a Reply