एक अनूठी प्रेम कहानी है ‘देखा जो पहली बार’


प्रेमबाबू शर्मा 

‘देखा जो पहली बार ‘ फिल्म कि कहानी आज के युवा पीढी को समर्पित है। फिल्म में युवाओं के जज्बे और उनकी मनोदशा को दर्शाते हुए त्रिकोणीय प्रेम कहानी का ताना बाना बुना है। फिल्म की कहानी दो अलग अलग कालेज डी डी एल जे और डॉन नामक में पढने वाले युवाओं की है। फिल्म का नायक राहुल (शाहनवाज खान), डी डी एल जे कालेज में पढता है, उसी कालेज में अनुपमा (कनिका) और नीलोफर (चारू अशोपा) भी पढती है, जबकि ‘डॉन’ कालेज में अपराधिक व गुंडा मानसिकता वाले आमिर माँ बाप के बच्चे पढ़ते हैं.

एक बार राहुल का अपने ही कालेज के किसी लडके से किसी बात को लेकर झगडा हो जाता है, और राहुल उसकी पिटाई कर देता है. उस लडके को पिटता हुए देखकर अनुपमा को बहुत बुरा लगता है, वो उस लडके की मददगार बन सामने आती है और राहुल से उलझ जाती है। राहुल,अनुपमा के सौदर्य व सादगी को पर मोहित हो जाता है,उस लडके को छोड़ देता है,और अनुपमा के खूबसूरती में खो जाता है,उसी समय नीलोफर, राहुल और अनुपमा को समझा कर अलग ले जाती है।
घटित हादसा अनुपमा के दिल में राहुल के प्रति नफरत भर जाती है। नीलोफर, दिल ही दिल में राहुल को प्यार करती है, और राहुल के आग्रह पर वह अनुपमा के सामने गलत फहमी दूर करने और अपने दिल की बात उस तक पहुँचाने के लिए नीलोफर का सहारा लेता है. नीलोफर राहुल की बात अनुपमा तक पहुंचाने और उसे समझाने की कई बार कोशिश करती है लेकिन अनुपमा ध्यान नहीं देती।
कालेज में अनेक कई लडकियां राहुल को चाहती हैं लेकिन राहुल अनुपमा का ऐसा दीवाना हो चुका है एक दिन राहुल नीलोफर को अपने दिल की बात बताता है की वो अनुपमा को बहुत प्यार करता है और उसके बिना जी नहीं सकता, इस को सुनकर नीलोफर को दुःख तो होता है, क्योंकि वो भी राहुल को बहुत प्यार करती है, फिर भी वह दोनों को मिलाने की कोशिश करती रहती है.

किसी कारण एक बार ‘डॉन’ कालेज के लडके राहुल की बुरी तरह पिटाई कर देते हैं। राहुल को अस्पताल में भर्ती किया जाता है, लेकिन अनुपमा फिर भी उससे मिलने नहीं आती। ‘डी डी एल जे’ कालेज का प्रिंसिपल (सुदेश बेरी) भी राहुल को पसंद नहीं करता, लेकिन उसी कालेज का स्पोर्ट्स टीचर (अमन वर्मा) राहुल को बहुत पसंद करता है, वह उसे स्पोर्ट्स में लाना चाहता है, लेकिन राहुल स्पोर्ट्स में नहीं मोहब्बत की दुनिया में नाम कमाना चाहता है, स्पोर्ट्स टीचर समझाता है उसे की एक खिलाडी ही अपने जीवन में आने वाले तूफान से लड़ सकता है, चाहे वह तूफान मोहब्बत का ही क्यों न हो.

राहुल अपने आप में बदलाव लता है और स्पोर्ट्समैन बन जाता है, लेकिन अनुपमा या नीलोफर में से उसे कौन मिलती है जो कहती है देखा जो पहली बार…………………..

निर्माता निर्देशक – मोहम्मद शमीम खान , कलाकार: शाहनवाज खान कनिका कोटनाला ,चारु, हिमानी शिवपुरी,मुश्ताक खान,सुदेश बेरी,अमन वर्मा, शाहबाज खान और अभय , संगीत: प्रवीन, मनोज, मिक्की नरूला और रिग्देव हैं, गीतः एस एम् फुसैल, मोहम्मद शमीम खान और युधवीर सिंह, छायाकार: तापस

Leave a Reply