भारत विकास परिषद् एवं केन्द्रीय आर्य युवक परिषद् द्वारा संगीत संध्या “एक शाम ऋषि दयानंद के नाम” का आयोजन

भारत विकास परिषद्, पीतमपुरा शाखा एवं केन्द्रीय आर्य युवक परिषद् के संयुक्त तत्वावधान में महर्षि दयानंद जी के 130वें बलिदान दिवस के उपलक्ष्य में दिल्ली हाट पीतमपुरा में संगीत संध्या “एक शाम ऋषि दयानंद के नाम” का आयोजन किया गया। कार्यक्रम में विधायक श्री रविन्द्र बंसल, भाविप दिल्ली प्रदेश उत्तर के अध्यक्ष श्री राजकुमार जैन, एमिटी यूनिवर्सिटी के डायरेक्टर श्री आनंद चैहान, निगम पार्षद श्री चांदीराम चावला एवं श्रीमती ममता नागपाल आदि ने शिरकत की। कार्यक्रम की अध्यक्षता भाविप, पीतमपुरा के अध्यक्ष श्री प्रदीप तायल ने की, जबकि मंच का कुशल संचालन केन्द्रीय आर्य युवक परिषद् के राष्ट्रीय अध्यक्ष डॉ. अनिल आर्य ने किया।

अपने संबोधन में विधायक श्री रविन्द्र बंसल ने कहा कि आर्य समाज के प्रवर्तक महर्षि दयानंद सरस्वती ने समाज में व्याप्त कुरीतियों, भेदभाव एवं पाखंड को पीछे छोड़ आपसी सामंजस्य एवं भाईचारे के साथ सच्चाई के पथ पर आगे बढ़ने का मार्ग दिखाया। उनके दिखाए मार्ग पर चलकर ही सही मायने में मानव समाज की उन्नति संभव है। भारत विकास परिषद् दिल्ली प्रदेश उत्तर के अध्यक्ष श्री राजकुमार जैन ने कहा कि ऐसे समय में जब विदेशी संस्कृतियां भारतीय संस्कृति पर हावी होने का प्रयास कर रही है, महर्षि दयानंद सरस्वती के सिद्धांत एवं जीवन आदर्श की प्रासंगिकता काफी बढ़ जाती है। हमें उनके जीवन चरित्र एवं विचारधारा को घर-घर पहुंचानी होगी।

कार्यक्रम के दौरान आमंत्रित गायक कलाकारों नरेंद्र सुमन एवं सुदेश आर्या ने महर्षि दयानंद जी के जीवन आदर्शों पर आधारित संगीतमय काव्य प्रस्तुति से उपस्थित जनसमूह को भाव-विभोर कर दिया। इस अवसर पर समाज में उल्लेखनीय कार्य करने वाली महिलाओं को “आर्य महिला रत्न” अवार्ड से सम्मानित किया गया।

Leave a Reply