सभ्यता एवं संस्कृति पर दें विशेष ध्यान: वी भगैया

भारत विकास परिषद दिल्ली प्रदेश उत्तर की एक महत्वपूर्ण बैठक भारत विकास भवन पीतम पुरा में सम्पन्न हुई, जिसमें राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के बौद्धिक प्रमुख श्री वी भगैया के अलावा परिषद के राष्ट्रीय पदाधिकारियों अध्यक्ष श्री सीताराम पारीक, कार्यकारी अध्यक्ष श्री एसके वधवा, उपाध्यक्ष श्री भूपेंद्र मोहन भंडारी, अतिरिक्त महामंत्री श्री अजय दत्ता (जोन-1-3) एवं राष्ट्रीय संयोजक (पब्लिसिटी) श्री राजकुमार जैन का भी पावन सान्निध्य रहा। भाविप दिल्ली प्रदेश उत्तर के मुख्य संरक्षक एवं दिल्ली के पूर्व महापौर श्री महेश चंद्र शर्मा के कुशल मार्गदर्शन में आयोजित इस बैठक में सेवा एवं संस्कार प्रकल्प के कई महत्वपूर्ण बिन्दुओं पर विचार-विमर्श किया गया।

राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के बौद्धिक प्रमुख श्री वी भगैया ने कहा कि देने में ही जीवन की धन्यता है। भारत की पावन धरती पर निः स्वार्थता से कार्य करने में धन्यता पाने वाले असंख्य लोग हैं। ऐसे में संपर्क दायरे का विस्तार कर इन लोगों के सहयोग से विशेष रुप से झुग्गी-झोपड़ी क्षेत्रों में सेवाभावी कार्यों को बढ़ावा दिया जा सकता है। श्री वी भगैया ने कहा कि वर्तमान सूचना-तकनीकी विस्तार युग में सभी चीजें तेजी से बदल रही हैं। इससे हमारी सभ्यता एवं संस्कृति भी अछूती नहीं रही है। परिवर्तन के इस दौर में भी भारतीयता क्या है, इस पर गंभीरता से विचार कर इसे अक्षुण एवं समृद्ध बनाने का प्रयास करना होगा। इसके अलावा सामाजिक सोच को एक नयी सकारात्मक दिशा देने, सामूहिक रुप से छात्रों में राष्ट्रीयता की भावना का संचार करने तथा युवाओं के व्यक्तित्व एवं कौशल विकास आदि पर भी विशेष ध्यान देना होगा।

परिषद के राष्ट्रीय अध्यक्ष श्री सीताराम पारीक ने कहा कि परिषद की सभी शाखाओं में कम से कम एक स्थायी सेवा प्रकल्प हो और सभी प्रकल्पों का समय-समय पर सोशल ऑडिट होना चाहिए। उन्होंने सदस्य बनाते समय क्वांटिटी की बजाय क्वालिटी पर ध्यान देने की जरुरत बताते हुए महिलाओं की भी समुचित भागीदारी सुनिश्चित करने पर जोर दियज्ञं राष्ट्रीय कार्यकारी अध्यक्ष श्री एसके वधवा ने सांगठनिक कुशलता पर ध्यान केंद्रित करते हुए अधिकाधिक सदस्यों को दायित्व भार सौंपने की बात कही।


इससे पूर्व भाविप दिल्ली प्रदेश उत्तर के मुख्य संरक्षक श्री महेश चंद्र शर्मा ने प्रांत की उपलब्धियों पर प्रकाश डाला। वहीं प्रांतीय अध्यक्ष श्री संजीव मिगलानी ने विभिन्न संस्कार एवं सेवाभावी कार्यक्रमों एवं कोषाध्यक्ष श्री बी बी दिवान ने वित्तीय तथा सदस्य संख्या आदि से संबंधित जानकारी दी। कार्यक्रम का कुशल संचालन प्रांतीय महासचिव श्री नरेंद्र सिंघल ने किया। इस दौरान प्रांतीय एवं शाखा पदाधिकारियों सहित बड़ी संख्या में परिषद सदस्य गण उपस्थित रहे।

Leave a Reply