राष्ट्रीय आर्मरेस्लिगं प्रतियोगिता में दिल्ली को तीसरा स्थान


38वी राष्ट्रीय पंजा प्रतियोगिता में दिल्ली टीम को तीसरा स्थान प्राप्त हुआ पहले स्थान पर केरल और दिल्ली से केवल 1 अंक अधिक होने से पंजाब दुसरा स्थान पाने मे सफल रही। यह प्रतियोगिता आगरा, युपी में 21 से 25 मई तक चली और इसमे देश भर के 20 राज्यों के 400 से भी अधिक महिला और पुरुष खिलाड़ियों ने हिस्सा लिया। यह प्रतियोगिता भारतीय पंजा कुश्ती संघ के तत्वधान में युपी पंजाकुश्ती संघ ने आयोजित की।

दिल्ली के मुख्य सचिव और मुख्य प्रशिक्षक लक्ष्मण सिंह भंड़ारी ने द्धारका परिचय को बताया कि दिल्ली ने 2 स्वर्ण, 4 रजत और 5 कांस्य पदक जीते और यह अब तक की सबसे बड़ी जीत है तथा यह गौरव की बात है। उन्होनें इसका श्रेय सभी खिलाड़ियो की अथक मेहनत और लगन को दिया। स्वयं श्री भंड़ारी ने भी इस प्रतियोगिता में भाग लिया और स्वर्ण पदक जीता उन्होनें कहा वह केवल अपने खिलाड़ियों का हौसला बढ़ाने के लिए खेलतें हैं।

दिल्ली के विजेताओं मे सबसे प्रमुख रहे दिपंकर जिन्होने जुनियर वर्ग 65 किलों भार में न सिर्फ स्वर्ण पदक जीता बल्कि जुनियर वर्ग के चैम्पियन आॅफ चैप्पियनस का खिताब भी अपने नाम किया कांस्य पदक पाने वालों में शुभम वार्ष्णेय, संदीप कुमार, सुनिल चैहान, मोहन शर्मा, राम रजत पदक पाने वालों में श्रुती बावा, रोहीत शैराॅन, आबिद सैफी, देवेद्र कुमार और स्वर्ण पदक पाने वाले लक्ष्मण सिंह भंड़ारी रहे। अन्य खिलाड़ीयों में सुरेद्र कुमार, हिमाशु, फख्रू¬द्धीन, सुखदेव सिंह, संदीप शैराॅन, संजय देशवाल, भुपीदंर सिंह, प्रभप्रीत सिंह, मोनु, टीकम चंद, कुश, अंकित और अन्य रहे।

Leave a Reply