National Lobour Day Celebrated in Dwarka

1 मई 2014 द्वारका सेक्टर -10 मैट्रों स्टेशन के पास मजदूर दिवस कार्यक्रम का आयोजन किया गया। इस कार्यक्रम में 200 प्रवासी, बेघर, बेसहारा मजदूरों ने भाग लिया। कार्यक्रम की अध्यक्षता संस्था के महासचिव भाई बी. के. सिंह ने की। उन्होंने  राष्ट्रीय मजदूर दिवस के अवसर पर बताया कि मुझे गरीब, मजबूर लोगों के बीच काम करने में बहुत अच्छा लगता है क्योंकि मैंने गरीबी को बहुत नजदीक से देखा है। आज मेरे अभियान को द्वारका उपनगरी में रह रहे बेघर, बेसहारा लोगों के बीच मुझे 3 साल से काम करने का जो मौका मिला इससे मुझे बहुत ही प्रेरणा मिली है.  मेरा संघर्ष तब-तक जारी रहेगा जब-तक की द्वारका उपनगरी में कम से कम 10 रैन बसेरा का निर्माण नहीं हो जाता। मैं दिल्ली शहरी आश्रय सुधार बोर्ड, दिल्ली सरकार केेे उपाध्यक्ष सह पूर्व जोइन्ट सीपी अमोद कण्ठ, सी.ई.ओ. अमरनाथ जी, निदेशक कमल मलहौत्रा, सहायक अभियन्ता एन.एच.शर्मा, सहायक निदेशक बलविन्दर सिंह जी को सभी बेघर, बेसहारा मजदूरों की ओर से धन्यवाद देना चाहता हूँ कि सेक्टर-10, द्वारका में रैन बसेरा बनाकर गरीबों को आश्रय प्रदान किया है। साथ-साथ में दिल्ली जल बोर्ड के कार्यपालक अभियन्ता श्री एस.के. दहिया जी को भी धन्यवाद देता हूँ कि उन्होंने रैन बसेरा में विधिवत पेय जल की आपूर्ति करते रहते है कभी पानी की कमी नहीं होने देते है।

इन गरीबों की लड़ाई में दैनिक जागरण, द्वारका सिटी, द्वारका परिचय, जागरण प्लस, नेशनल दुनिया, हरि भूमि, राष्ट्रीय सहारा, अमर उजाला, हिन्दुस्तान टाईम्स, हेलो भेजपुरी, स्ट्रीट रिपोर्टर द्वारका एवं संस्था के सभी पदाधिकारी धन्यवाद के पात्र है जो आज राष्ट्रीय मजदूर दिवस के शुभ अवसर पर मजदूरों के लिए आश्रय उपलब्ध कराने में अपना सराहणीय योगदान दिया है। रिक्शा चालक ओम प्रकाश महतो ने सभी मजदूरों को बताया कि अब हम लोगों का अपना घर बन गया है। इसकी साफ-सफाई रखना मेरा पहला कर्तव्य है। इस अवसर पर बेघर रिक्शा चालक ओम प्रकाश महता ने साथियों के साथ इस कार्यक्रम में भाग लिया और दिल्ली सरकार के पदाधिकारियों को धन्यवाद देते हुए कहा कि दिल्ली में हम बेघर मेजदूरों का मतदाता सूची में भी नाम जोड़ा जाए।

Leave a Reply