इण्डिया स्पोर्ट्स संघ का मुख्य कार्य खिलाड़ियों की तन-मन-धन से सहायता करना है: सुनील गुप्ता


द्वारका परिचय ने इण्डिया स्पोर्ट्स संघ के राष्ट्रीय अध्यक्ष से बातचीत की. आपके समक्ष प्रस्तुत है मुलाकात के अंश:

सुनील गुप्ता

इंडिया स्पोर्ट्स संघ गठन करने का क्या उद्देश्य है?
इण्डिया स्पोर्ट्स संघ (पंजी.) का गठन करने का उद्देश्य है संस्था द्वारा खिलाड़ियों के बीच जाकर गैर राजनैतिक खिलाड़ियों की तन-मन-धन से सहायता करना. दिल्ली व देश के अनेक क्षेत्र¨ मे जाकर पता चला देश मे बहुत से खिलाड़ी प्रतिभावान हो सकते है लेकिन अच्छे कोच व धन की कमी की वजह से वे पीछे रह जाते है.

संघ द्वारा खेलों के कल्याण व् विकास क्षेत्रों में कुछ विशेष योगदान के बारे में बताएं?
संस्था द्वारा बहुत से बच्चों को कुष्ती, दंगल, मार्शल आर्ट, बाडी बिल्डिंग, तैराकी दौड़ आदि मे सहायता करके आगे बढ़़ाने का कार्यक्रम हो रहा है.

 संघ की कार्यकारिणी समिति से जुड़े जुए पदाधिकारियों का खुलासा करें.
संस्था मे दिल्ली व राश्ट्रीय स्तर पर हमारे बहुत से साथी काम कर रहे है जैसे कि मोहिन्दर लाल, श्री कृष्ण त्यागी (पूर्व विधायक), राजेन्द्र सोलंकी, मुकेश जैन, अरुण उपाध्याय, दलबीर मलिक, पवन कुमार, नवीन राठी, सुनील चौहान, कुल्दीप सागवान, राजन मलिक,संजीव बिष्ट, अभिषेक शर्मा, स्वर्ण सिंह, राजीव निर्माण, संदीप तिवारी, सुजीत कुमार, मान सिंह, रिशी मग्गो,, अस्वनी सागर, नरेश नैन, नीरज शर्मा, पारुल त्यागी, ओमदत्त शर्मा, एम.पी. सिंह, उत्तम कुमार, गुलशन साहनी,सच्चिदानन्द भट्ट, राकेश कुमार, मनोज चौरसिया, कौशल गर्ग, अरुण पौद्दार, एस.एस. डोगरा, आई.पी. सिंह, विद्यासागर जैसे अनेक खेल प्रेमी हमारे साथ काम कर रहे है.

आप खेलों के विकास के लिए संघ का निर्माण किया आपको इसके किसने प्रेरित किया?
1996 मे श्री विजय गोयल  (भा.ज.पा.) नेता व सांसद (राज्यसभा) एवं श्री श्याम जाजू राष्ट्रीय मंत्री (भा.ज.पा.) जी – हमारे प्रमुख संरक्षक ने प्रेरित किया और समय-समय पर हमारी सहायता करते है.

संघ की विभिन्न राज्यों में गठित शाखाओं का ब्यौरा दें.
पंजाब, दिल्ली, चण्डीगढ़, हरियाणा, हिमाचल प्रदेश, उत्तर प्रदेश, तमिलनाडु, बिहार, पष्चिम बंगाल, राजस्थान, मध्य प्रदेश, झारखण्ड, आदि राज्यों मे संस्था कार्य कर रही है.

संघ का क्या एजेंडा है
पूरे देश मे उस खिलाड़ी को आगे बढ़ाना जो किसी भी तरह से पिछड़ा हुआ है. खिलाड़ी को खेल मे, शिक्षा मे सहायता करना व नशे से दूर रखने के लिये प्रयास करना.

संघ से जुड़े कुछ अंतरार्ष्ट्रीय खिलाडियों के बारे में बताएं.
श्री उदय चन्द पहलवान (अर्जुन अवार्डी 1961), ओलम्पियन श्री प्रेमनाथ (अर्जुन अवार्डी), श्री अशोक ध्यानचन्द (अर्जुन अवार्डी), श्री महिन्दर लाल (अर्जुन अवार्डी), श्री महाबीर (अर्जुन अवार्डी), ज्ञानचंद, विक्रम पहलवान, गोल्डन राठोर, नवीन राठी  जैसे अनेक¨ खिलाड़ी जुडे़ है.


आगामी कार्यक्रम आयोजन की कोई योजना है?
आगामी रविवार , 20 जुलाई, 2014 को दिल्ली के तालकटोरा स्टेडियम मे खेल आयोजन व खिलाड़ी सम्मान का कार्यक्रम है जिसमे हजारों खिलाड़ी शामिल होंगे.

भारतीय खलों व् खिलाडियों के विकास लिए सर्वप्रथम किस की आवश्यकता है
भारतीय खेल¨ मे आवश्यकता  हैः-
अच्छे कोच की
खिलाड़िय¨ की पहचान करके उनकी खुराक की
खिलाड़ियों की शिक्षा की
खिलाड़ियों के मेडिक्लेम व जीवन बीमा की
जहाँ स्टेडियम, पार्क या खेल परिसर नही है वहां व्यवस्था करना.
खेल¨ मे भ्रष्ट्राचार खत्म करना.

खेलों के विकास के लिए खेल प्रेमियों के आप क्या सन्देश देना चाहते हैं?
मै खेल प्रेमियों से कहना चाहता हू कि आपके मोहल्ले, क्षेत्र, गांव, विद्यालय, मे बहुत सी खेल प्रतिभा है. उनकी सहायता करे एवं उनका उत्साह बढ़ाए. भारत जनसंख्या मे दूसरे नम्बर पर है किन्तु खेल¨ मे 52वे नम्बर पर है.भारत का सांस्कृतिक खेल मलयुद्ध, कुश्ती, कबड्डी व राश्ट्रीय खेल हाकी समाप्ति की ओर है. पाश्चात्य खेल फैल रहे है. आज फुटबाल खेल मे भारत 163वें स्थान पर है. हमे जो सम्पन्न है उन्हे आगे बढ़कर स्वयं या संस्था द्वारा खिलाड़ियों की सहायता करनी चाहिए.

सम्पर्क कर सकते है.
सुनील गुप्ता
राश्ट्रीय अध्यक्ष

Address: 2935, Aryapura
Sabjimandi, Delhi -110007
Tel: 011-23824700, Fax: 011-23822977
Mob: 09911704102 / 09211468836
Email: indiasss@yahoo.com

Leave a Reply