अपार इंडिया कॉलेज में दस दिवसीय एम्लॉयबिलिटी स्किल्स डेवलपमेंट वर्कशॉप

ताजा दौर में वर्कफोर्स को बढ़ाने की बजाय तमाम कंपनियां अपने संभावित प्रोजेक्ट को ध्यान में रखकर ही हायरिंग कर रही हैं। जाहिर है, इसके लिए उनका जोर स्किल्ड प्रोफेशनल्स पर है। इसे देखते हुए अपार इंडिया ग्रुप ऑफ इंस्टीट्यूशंस में एम्लॉयबिलिटी स्किल्स एंड पर्सनॉलिटी डेवलपमेंट वर्कशॉप का आयोजन किया गया। इस दस दिवसीय वर्कशॉप के दौरान अपने कॉर्पोरेट सोशल रिस्पांसिबिलिटी के तहत देश की शीर्ष कंपनी “गोदरेज” के प्रशिक्षकों ने अपार इंडिया कॉलेज के छात्रों को प्रशिक्षित किया। वर्कशॉप के समापन पर असेसमेंट टेस्ट के जरिए प्रतिभागियों की योग्यता की परख कर उन्हें सर्टिफिकेट प्रदान किया गया।

“गोदरेज” के प्रशिक्षकों ने छात्रों को बताया कि यदि आप किसी कंपनी में अपने मनमुताबिक जॉब चाहते हैं तो पहले यह परख लें कि संबंधित जॉब के लिए आपमें वह स्किल्स हैं या नहीं। साथ ही आपकी स्ट्रेंथ और वीकनेस क्या है जिस पर जोर देकर आप अपने मुकाम को हासिल कर सकते हैं। उन्होंने छात्रों को एम्लॉयबिलिटी स्किल्स एवं पर्सनॉलिटी डेवलपमेंट से संबंधित तमाम महत्वपूर्ण गुर सिखलाए।
अपार इंडिया ग्रुप ऑफ इंस्टीट्यूशंस के फाउंडर चेयरमैन श्री राजकुमार जैन ने कहा कि हमारी सदैव यही कोशिश रहती है कि अपार इंडिया के शत-प्रतिशत छात्रों को जॉब के अवसर उपलब्ध हो। इसके लिए हमनें तमाम सुविधाएं उपलब्ध करायी हैं। सभी छात्र इन सुविधाओं का लाभ उठाते हुए कंपनियों और मार्केट की जरूरत को देखते हुए खुद को प्रैक्टिकली स्ट्रॉन्ग बनाएं।

डॉयरेक्टर प्रो. अपार जैन ने छात्रों से कहा कि वे इंडस्ट्री की डिमांड पूरी करने के लिए टैलेंट डेवलप करें। जरूरत के अनुसार अपार इंडिया द्वारा प्रोवाइड तमाम फ्री सर्टिफिकेट कोर्स कर अपनी हर कमजोरी दूर करें, ताकि जब आप किसी कंपनी में टेस्ट के लिए जाएं, तो अपने बेजोड़ काम से उन्हें अपना मुरीद बना सकें।

Leave a Reply