लीक से हटकर रोल करने की चाह: उतर कुमार

प्रेमबाबू शर्मा  

अभिनेता उतर कुमार अपनी आने वाली फिल्म में ′डियर वर्सेज बियर ’ फुटबाल कैप्टन का किरदार निभाने के लिए इन दिनों कड़ी मेहनत कर रहे हैं। बॉलीवुड के निर्देशक संजीव देवगण ने इस फिल्म के द्वारा मैसेज देने का प्रयास किया है, कि अगर मनुष्य में हौसला है,और वो किसी भी परेशानी का सामना पूरी हिम्मत और ईमानदारी से करे तो निश्चत तौर पर उसको कामयाबी मिलेगी। उतर कुमार को हरियाणवी फिल्मों का सफल निर्माता के अलावा कामयाब अभिनेता माना जाता है, धाकड छोरा, घमासान, घडतल, लाट साहब,निकम्मा…. सहित तीस से ऊपर हिट फिल्मों में काम कर चुके है दिल्ली,उतराखंड,हरियाणा और पष्चिमी उतर प्रदेष में उनकी खासी लोकप्रियता है। उनका कहना है कि वह किसी एक रोल की अपेक्षा अलग अलग किरदार निभाना चाहते है। उनकी पहली हिन्दी फिल्म ′डियर वर्सेज बियर’ 26 सिंतम्बर को विष्वस्तर पर रीलिज होने जा रही है। फिल्म का ढाई के टैªलर में अपनी कहानी बयां कर किया है,और फिल्म का लोगों को बेसब्री से इंतजार भी है। उतर कुमार अपनी इस फिल्म को लेकर क्या सोचते है….,जानते है उनकी ही जुबानी:

फिल्म का नाम ′डियर वर्सेज बियर’ रखने की कोई खास वजह ?
फिल्म का कॅन्सेप्ट ही जंगल में भालुओं के बीच घिरी हमारी फुटबाल टीम और बार बार भालुओं का हम पर हमला… जिसमें हीरो अपनी और अपनी प्रेमिका की जान बचाता है। उसी के चलते फिल्म का नाम ′डियर वर्सेज बियर′ रखा है।

फिल्म में आपका किरदार क्या है?
फिल्म में मैं एक फुटबाल प्लेयर के रोल में हॅू।जो ग्रामीण अंचल में पला हैै। उसका एक ही सपना है,कि बडा होकर फुटबाल का खिलाडी बनकर देष की सेवा करेगा है।फिल्म में दिखाया गया है कि गांवों में प्रतिभा छिपी है, बस जरूरत है, उनको पहचान कर मौका देने की। फिल्म में मेरा चयन इंडियन फुटबाल टीम में हो जाता है और टीम दायित्व मेरे कंधों पर डाल की मुझे कप्तान बना दिया जाता है।

कहानी के अनुसार शुरुआत में आपकी हीराईन लवली से आपकी तू तू मैं मै के साथ तकरार होन, और बाद में प्यार हो जाता है । इस पर आपका क्या कहना है ?


बिलकुल सही। मेरी ज्यादातर फिल्में प्रेम कहानी बेसड रही है। वो चाहे धाकड,कर्मवीर,कट्टों या फिर निकम्मा। इन सभी फिल्मों में हीरोइन से मेरा तकरार फिर, प्यार….यानी झगडा प्यार में बदल जाता है। फिल्म ′डियर वर्सेज बियर′ में हीराइन का संबध एक अमीर से है। इसी कारण उसमें जरूरत से ज्यादा घमंड है। वह भी फुटबाल टीम की कप्तान है। हम दोनों जब जंगल में रास्ता भटक जाते है और कुछ अनचाही घटनाओं के चलते हम में नजदीकीयां बढती है। और प्यार हो जाता है।

फिल्म की कहानी क्या है ?
फिल्म की रीलिज से पहले कहानी का रहस्य बताना उचित नही है। हाॅ इतना कह सकता हॅू ,कि फिल्म कहानी दो फुटबाल टीम पर आधारित है। जो फुटबॉल का मैच खेलने के लिए उत्तराखंड जातेे है,और रास्ता भटक कर गुम हो जाते है। फिर शुरु होता है,जंगली जानवरों का हमला।

चर्चा है कि आपके साथ में विदेशी टीम भी है?
जी हाॅ, फिल्म में विदेशी कलाकार भी काम कर रहे है। हमारी टीम का यूएसए और आस्ट्रैलिया की टीम के साथ में कोलोब्रसेन है।

फिल्म के निर्माण में कितना वक्त लगा और शूटिंग कहां कहां हुई?
फिल्म निर्माण में दो साल का समय लगा और इसकी शूटिग उतर प्रदेष ,उतराखंड,दिल्ली, हरियाणा और राजस्थान में हुई।

फिल्म में आपके अलावा और कौन कौन कलाकार है ?
फिल्म में मनोज बक्षी जो कि कई फिल्मों में करीना कपूर और रणवीर कपूर के पिता का किरदार निभा चुके है। इस फिल्म में भी वह हीराईन लवली जोषी के पिता बने है इसमें राजू मान,उर्मिला ष्
शर्मा लवली जोशी भी है।

फिल्म ′डियर वर्सेज बियर′ किस मैसेज पर आधारित है ?
अगर मनुष्य में हौसला है,और वो किसी भी परेशानी का सामना पूरी हिम्मत और ईमानदारी से करे तो निश्चत तौर पर उसको कामयाबी मिलेगी। फिल्म ′डियर वर्सेज बियर′ में भी यही मैसेज है।

Leave a Reply