संगीत के माध्यम से युवा पीढ़ी को जोड़ने का मकसद

इंडियन स्कूल आॅफ म्यूजिक द्वारा गोल मार्केट स्थित मुक्त धारा सभागार में संगीत का कार्यक्रम आयोजित किया गया जिसमें इंडियन स्कूल आॅफ म्यूजिक स्थित हरिनगर एवं मयूर विहार की शाखा के सैंकडों छात्र-छात्राओं ने बढ़-चढ़कर हिस्सा लिया। इस आयोजन का मकसद बच्चों को संगीत से जोड़ना था। बाल कलाकारों द्वारा किए गए प्रस्तुति ने सबको मंत्रमुग्ध कर दिया।

इस कार्यक्रम का शुभारंभ दीप प्रज्जवलित संस्था के निदेशक आकाश दीप एवं कुमारी प्रियदर्शनी के द्वारा किया गया। बच्चों ने संगीत की विभिन्न विधाओं गिटार, वाद्ययंत्र, तबला और नाल का जहां वाद्य यंत्र कार्यक्रम की प्रस्तुति दी वहीं गायन से कई बच्चों ने लोगों को मन मोह लिया। इस मौके पर छात्राओं ने कत्थक, वेस्टर्न और अन्य भारतीय शास्त्रीय नृत्य की प्रस्तुति दी। 
कार्यक्रम को संबोधित करते हुए निदेशक आकाश दीप ने कहा कि इस प्रकार के कार्यक्रमों से बच्चों में आत्मविश्वास बढ़ता है तथा वह संगीत को अपना भविष्य भी बना सकते हैं। उन्होंने कहा कि हमारे संस्थान द्वारा संगीत में डिप्लोमा एवं डाॅक्टररेट की डिग्री भी प्राप्त की जाती है। इसके अलावा हमारी संस्था गरीब एवं भटके हुए बच्चों को संगीत के माध्यम से मुफ्त शिक्षा प्रदान करती है और समाज में सुदृढ़ होने के लिए उर्जा प्रदान करती है। हमारा लक्ष्य युवाओं में भारतीय शास्त्रीय संगीत एवं नृत्य को बढ़ावा देना है।

Leave a Reply