सच्चा ज्ञान वही है जिससे मानवता का कल्याण हो : राजकुमार जैन


भारत विकास परिषद् दिल्ली प्रदेश उत्तर द्वारा स्वामी विवेकानंद जी की जयंती के उपलक्ष्य में शिव मंदिर,विवेकानंद पुरी के विशाल प्रांगण में पुरस्कार वितरण एवं सम्मान समारोह का आयोजन किया गया। जिसमें मेधावी एवं निर्धन छात्रों कोपुरस्कार वितरण एवं उल्लेखनीय योगदान देने वाले शिक्षकों को सम्मानित किया गया। इस अवसर पर कवि सम्मेलन का भी आयोजन किया गया।

अपने संबोधन में भाविप दिल्ली प्रदेश उत्तर के मुख्य संरक्षक एवं दिल्ली के पूर्व महापौर श्री महेश चंद्र शर्मा ने भारत विकास परिषद्के जनकल्याणकारी कार्यों पर प्रकाश डाला। उन्होंने बताया कि स्वामी विवेकानंद जी के बताए मार्ग पर चलते हुए भारत विकास परिषद्विवेकानंद पुरी में विकलांग फॉउंडेशन केंद्र, गरीबों के लिए नेत्र एवं दंत चिकित्सा केंद्र के साथ-साथ सिलाई, कढ़ाई, ब्यूटीशियन और कंप्यूटरकेंद्र चलाता है।

भाविप दिल्ली उत्तर के प्रमुख परामर्शदाता एवं शिक्षाविद श्री राजकुमार जैन ने कहा कि सच्चा ज्ञान वही है जिससे मानवता काकल्याण होता हो। समाजोत्थान व राष्ट्र निर्माण में युवा प्रतिभाओं एवं शिक्षकों पर अत्यधिक जिम्मेदारी है। श्री जैन, भाविप दिल्ली उत्तर केअध्यक्ष श्री संजीव मिगलानी एवं हिंदी अकादमी के सचिव श्री हरिसुमन बिष्ट ने छात्रों, शिक्षकों एवं कवियों को पुरस्कृत एवं सम्मानित किया।

इस दौरान राष्ट्रीय कवि श्री गजेंद्र सोलंकी, श्री सोनू साहू, श्री भुवनेश सिंहल एवं श्री चरणजीत चरण आदि ने काव्य पाठ से समां बांधदिया। श्री सेवाराम जैन ने सभी अतिथियों का स्वागत किया। कार्यक्रम की अध्यक्षता श्री मनोज विजयवर्गीय ने की। इस अवसर पर पार्षद श्रीसतवीर शर्मा, श्री कपूरचंद गोयल एवं श्री दीपक जैन सहित बड़ी संख्या में अन्य गणमान्य एवं परिषद्जन उपस्थित रहे।

Leave a Reply