दर्शकों को पसंद आएगा ‘वट द जट’ में मेरा रोल: पूनम राजपूत

चन्द्रकांत शर्मा

किसी ने सोचा भी नहीं होगा कि हिमाचल के पालमपुर के एक छोटे से गांव की लड़की रूपहले परदे पर अपनी कला का जौहर दिखाएगी। जी हां, बात हो रही माॅडल व एक्ट्रेस पूनम राजपूत की, जिनके पिता केहर सिंह राणा आर्मी में थे। पिता की मृत्यु के बाद पूनम ने काफी संघर्ष किया परन्तु आज वो किसी पहचान की मोहताज नहीं है। पूनम करीबन 40 म्यूजिक एलबमस कर चुकी हैं तथा सभी प्रमुख चैनलों के मुख्य सीरियलों में वो नजर आ चुकी हैं। आने वाली फिल्म ‘वट द जट’ में पूनम लीड हीरोइन हैं तथा खास बात यह है कि पंजाबी फिल्म होने के बावजूद यह फिल्म पूरे भारत में रिलीज हो रही है। पूनम से हाल ही में खुलकर बातचीत करने का मौका मिला। प्रस्तुत है बातचीत के प्रमुख अंश:


‘वट द जट’ फिल्म में अपने किरदार के बारे में बताएं?
‘वट द जट’ में मेरा किरदार एक सीधी-सादी लड़की का है, जिसका नाम सीरत है। रीयल लाइफ में मैं जो नहीं हूं, वो मेरा किरदार है। रीयल लाइफ में मैं काफी बोल्ड व मेरा फ्रेंडली नेचर है। मुझे लोगों को ओबजरव करना अच्छा लगता है परन्तु इस फिल्म में मैं बिल्कुल सीधी-साधी गांव की लड़की हूं। मेरी यह डेब्यू फिल्म है।

आपने करियर की शुरूआत कैसे की?
मेेरे फिल्मी करियर की शुरूआत तो अपने आप ही हो गई थी। एक्चुअली मैं हिमाचल में पालमपुर से हूं और मैंने ग्रेजुएशन हमीरपुर से की है। उसके बाद मैं चण्डीगढ़ एमबीए करने के लिए गई। एमबीए के दौरान मेरे पापा की मृत्यु हो गई तथा मुझे जॉब भी ज्वाइन करनी पड़ी। मेरी जॉब ठीक-ठाक चल रही थी तभी एक दिन मेरे एक मित्र ने कहा कि तुम अच्छी-खासी दिखती हो, एलबम वगैरह के लिए ट्राई क्यों नहीं करती? उसके बाद मैंने एमएच वन चैनल के शो ‘निडर – डर के आगे जीत है’ के लिए आॅडिशन दिया और मेरा सलेक्शन भी हो गया। इस शो में मैं फाइनल तक गई। उसके बाद तो मुझे एक के बाद एक म्यूजिक एलबम मिलती गई। मैंने तीन महीने में 35 म्यूजिक एलबमस की।

आपकी मुख्य म्यूजिक एलबमस कौन सी हैं?
वैसे तो मैंने पंजाब के सभी बड़े सिगर्स की एलबम में काम किया है। मैंने हनी सिंह के साथ एलबम ‘शराबियां’ में काम किया है तथा सिंगर जावेद अली की एलबम ‘यारां’ में मेरा काम दर्शकों ने काफी सराहा है।


मुम्बई कब और कैसे आना हुआ?
मुझे सभी ने यही कहा कि अगर तुम्हे इस फील्ड में आगे जाना है तो मुम्बई तो जाना ही पड़ेगा। यही सोच कर मैं 2011 में मुम्बई आ गई। मुम्बई में मै किसी को जानती नहीं थी और न ही मुझे एक्टिंग आती थी। मैंने इस बारे में माॅम से बात की, माॅम ने बोला ट्राई कर लो, नहीं तो वापिस आ जाना। सबसे पहले मुझे प्रिंट शूट मिलने शुरू हुए। उसके बाद मैंने एमटीवी के शो ‘फेश आॅफ ब्यूटी’ का आॅडिशन दिया और ग्रेड फिनाले तक पहुंची। उसके बाद मैंने ‘चन्द्रकांता’ सीरियल में परी का रोल, क्लर्स पर ‘ना बोले तुम ना मैंने कुछ कहा’ में शर्मीली का रोल व सावधान इंडिया, फियर फाइल्स, सीआईडी, शपथ, अर्जुन, क्राइम पैट्रोल कई बार किए तथा जल्द ही क्लर्स पर ‘कोड रेड’ में भी दर्शकों को नजर आने वाली हूं।

आप एक्टिंग में किससे इन्स्पायर हैं?
मैं प्रियंका चोपड़ा से काफी इन्स्पायर हूं। वैसे मुझे अमिताभ बच्चन, रेखा, रणबीर कपूर व नवाजुद्दीन सिद्दकी की एक्टिंग भी काफी अच्छी लगती है। अगर मैं अपनी बात करूं तो मैंने कभी एक्टिंग नहीं सीखी और न ही मैंने कभी थिएटर किया। बस मेरे अंदर लोगों को ओबजरव करने की पावर बचपन से ही है और यही मेरी एक्टिंग की यूएसपी भी है।

किस हीरो के साथ काम करना चाहती हैं?
मैं सलमान खान के साथ काम करना चाहती हूं। इसके अलावा अर्जुन रामपाल, रणबीर कपूर व आमिर खान के साथ भी काम करना चाहूंगी।

आने वाले प्रोजेक्ट्स के बारे में बताएं?
मैं एक और पंजाबी फिल्म में काम करने वाली हूं। इसके अलावा हाल ही में मैंने एक हिन्दी फिल्म भी की है, जिसकी शूटिंग कम्पलीट हो चुकी है।

Leave a Reply