सोशल मीडिया पर आ रही खबरों से अधिकारी भी घबराने लगे हैं : यशवन्त सिंह


अशोक कुमार निर्भय 

मथुरा में पत्रकार दिवस पर पत्रकारों के मान सम्मान एवं स्वाभिमान को समर्पित संस्था इंटेलीजेन्स मीडिया एसोसियेशन (आईएमए) ने सम्मान समारोह एवं विचार गोष्ठी ‘‘सामाजिक विकास में पत्रकारों की भूमिका’’ का आयोजन चन्द्रलेखा कैम्पस निकट एटीवी, एनएच 2 पर किया जिसमें बड़ी संख्या में जनपद के पत्रकार उपस्थित थे ।

विचार गोष्ठी में मुख्यवक्ता के रूप में भड़ास 4 मीडिया के सम्पादक यशवंत सिंह, ने कहा कि आज मीडिया में नीचे से भृष्टाचार नही है वल्कि भृष्टाचार उपर से है बडे़ बडे़ मीडिया घराने बडे़ पेमाने पर भृष्टाचार में डूबे हुए हैं मजीठिया आयोग की शिफारिशों को आज तक इन मीडिया घरानों ने लागू नही किया है। जिसका कारण है कि मीडिया में काम करने वाले कर्मचारियों को उचित वेतन नहीं मिल पा रहा हैं। सच्चाई की पत्रकारिता की राह में कठिनाईयां अधिक हैं। फिर भी हमें समाज के प्रति अपने दायित्व को समझते हुये कार्य करना होगा। समाज में कुरीतियों को दूर करने तथा आम आदमी की परेशानियों को आम जनता तक पहुचाना होगा। उन्होंने कहा कि आज पत्रकारिता का दायरा बड़ा हो गया है आज हर घर हर मौबाइल से पत्रकारिता हो रही है युवाओं में भी आसपास कुछ भी गलत हो रहा है उसकों तुरन्त लोगों तक पहुंचाने की ललक शुरू हुई है। शोशल मीडिया ने अब परम्परागत मीडिया को पीछे छोड़ दिया है अब अधिकारी भी शोशल मीडिया पर आ रही खबरों से घबराने लगे हैं। इसका दायरा और बढ़ना चाहिये। 

विशिष्ठ वक्ता दिल्ली ईसान टाइम्स ग्रुप के सम्पादक संजय राय ने कहा कि पत्रकारों के सामने अनेक मजबूरियां हैं उनको मजबूत बनाने की आवश्यकता है तथा पत्रकारों के हितों की रक्षा की जानी चाहिये इसमें सरकारों और पत्रकारों को मिलकर पत्रकारों के हित के लिये योजना बना कर कार्य किये जाने की आवश्यकता है। जसवंत नगर के वरिष्ठ पत्रकार वेदव्रत गुप्ता ने कहा पत्रकार समाज का आईना है पत्रकार सामाजिक रूप से समाज के प्रति प्रतिवद्ध होते हैं, लेकिन उनके लेखन को अखवारों के मालिक दवा देते हैं, इससे पत्रकार हतोत्साहित होता है तथा समाज में यह सन्देश जाता है कि समाज के प्रति पत्रकार की उदासीनता है। उन्होंने कहा कि पत्रकारों के वेतनमानों में विसंगतियां है अखवारों के मालिक पत्रकारों का शोषण करते हैं। अखवारों के मालिकों के खिलाफ मौर्चा खड़ा करनें की जरूरत है।

रामनगर से पत्रकार मंशा राय ने अपने विचारों को व्यक्त करते हुए कहा कि संगठन को मजबूत करने की दिशा में और अधिक कार्य करने की आवश्यकता है। वरिष्ठ साहित्यकार के.के. वर्मा ने अपने सम्बोधन में कहा कि पत्रकारों को अपने ज्ञान को बढाना चाहिये तथा अधिक से अधिक अध्ययन करना चाहिये और आज आई टी क्षेत्र में भी अपने ज्ञान को बढाना चाहिये तथा नयी सुबिधाओं को अपने कार्य से जोडकर ही आज की पत्रकारिता की उंचाईयों पाया जा सकता है। चंदौसी से वरिष्ठ पत्रकार विनय समीर ने कहा कि पत्रकारों की आर्थिक स्थिति हमेशा से खराव है तथा इसी कारण बह अपने बच्चों की परवरिश ठीक से नही कर पाते है अधिकाशं पत्रकार बीमार होते है जो अच्छा इलाज भी नही करा सकते हैं इसके लिये सरकार की ओर से पत्रकारों को अच्छी स्वास्थ्य सेवायें मिलनी चाहिये। सिंगापुर से एनआरआई विनय राय ने भारत में आकर और मथुरा भगवान श्री कृष्ण की जन्मस्थली में अपने आप को धन्य मानता हूँ उन्होंने कहा कि पत्रकारों को किसी भी क्राईम को ज्यादा बढ़ा चढ़ा कर नहीं छापना चाहिये बल्कि अच्छे कार्यों को बढावा देना चाहिये। कार्यक्रम में अनेक वक्ताओं ने अपने विचार व्यक्त किये।

समारोह में आईएमए की राष्ट्रीय अध्यक्ष मन्जू वाष्र्णेय, अध्यक्ष नियन्त्रण समिति विनय समीर ने हरयाणा प्रदेश में संगठन को मजबूती प्रदान करने के लिए हरयाणा प्रदेश संयोजक पद पर ,जाट रत्न पत्रिका के संपादक जसवीर मलिक को और सह सयोजक पद पर दबंग हरयाणा संमाचार पत्र के संपादक विष्णु चोहान को मनोनीत किया |

आईएमए की राष्ट्रीय अध्यक्ष मन्जू वाष्र्णेय, अध्यक्ष नियन्त्रण समिति विनय समीर, प्रदेश अध्यक्ष अनूप गुप्ता, दैनिक कल्पतरू एक्सप्रेस आगरा से राजीव दधीच, दैनिक कल्पतरू एक्सप्रेस आगरा से भानुप्रताप सिंह, सम्पादक दैनिक अग्रभारत आगरा से धमेन्द्र सिंह,जाट रत्न पत्रिका के संपादक जसवीर मलिक, सन्तोष गंगवार,ईशान टाइम्स संपादक डा0 इन्द्रा राय,दबंग हरयाणा संमाचार पत्र के संपादक विष्णु चोहान विशेष आमन्त्रित सदस्य के रूप में उपस्थित थे। इस अवसर पर ग्यारह पत्रकारों का सम्मान किया ग्वालियर से राजेश चतुर्वेदी को संस्कृत में समाचार पत्र निकालने पर, कृषि समस्याओं लेख आदि के प्रकाशन पर दिलीप यादव को, अलवर के पत्रकार स्व. मुरारी लाल अग्रवाल को सम्मानित किया गया उनके सम्मान को उनके भतीजे डा0 धनेश अग्रवाल को दिया गया तथा मथुरा बलदेव के स्व.गोविन्द बल्लभ पाठक को सम्मानित किया गया उनके पुत्र राजेश पाठक ने सम्मान ग्रहण किया। विचार गोष्ठी में जनपद के पत्रकारों ने बड़ी संख्या में भाग लिया। जिसमें वरिष्ठ पत्रकार मोहन स्वरूप भाटिया, डॉ. अशोक बंसल, एडवोकेट प्रदीप राजपूत, आईएमए के संस्थापक नरेन्द्र एम. चतुर्वेदी, डा0 सी.के.उपमन्यु, सुनील शर्मा, विवेकदत्त मथुरिया, अमरेन्द्र गुप्ता एपीएन न्यूज दिल्ली, डॉ. धनेश अग्रवाल, मफत लाल अग्रवाल, गोपाल शर्मा, विनोद अग्रवाल, पं. ओमप्रकाश शर्मा, राजेश कुमार पाठक, कुन्ज बिहारी शर्मा, जितेन्द्र भारद्वाज, राजेश कुमार बब्बू मिथलेश कुमार, रशिक बल्लभ, सुबीर सेन, चन्द्र प्रकाश पान्डेय, कुशल प्रताप सिंह, मोहनवीर सिंह, शशिकान्त, विपिन कुमार आदि उपस्थित थे। आयोजन के स्वागताध्यक्ष संयुक्त जाट आरक्षण संघर्ष समिति राष्ट्रीय अध्यक्ष एच.पी.सिंह परिहार थे तथा कार्यक्रम की अध्यक्षता अखिल वक्शी ने की। सभी वक्ताओं का स्वागत आईएमए के जिलाध्यक्ष चै. दलवीर सिंह विद्रोही ने किया। विचार गोष्ठी का संचालन दीपक गोस्वामी ने किया।

Leave a Reply