एक्टर बनना मेरी प्राथमिकता नहीं थी : टाइगर श्रॉफ

चन्द्रकांत शर्मा 

टाइगर श्रॉफ की ‘हीरोपंती’ के बाद अब तक कोई दूसरी फिल्म नहीं आई है। लेकिन आजकल वह अपने फैंस के बीच धमाकेदार रूप में मौजूद हैं। हालिया टी-सीरीज के रिलीज म्यूजिक एलबम ‘जिंदगी आ रहा हूं’ के टाइटल सान्ग के वीडियो में वह अपने डांस का प्रदर्शन करते नजर आ रहे हैं। पेश है, इसी वीडियो एलबम के सिलसिले में टाइगर श्रॉफ से हुई बातचीत के प्रमुख अंश :-


एलबम ‘जिंदगी आ रहा हूं’ में काम करने की वजह क्या रही?
इस वीडियो एलबम के पीछे भी मेरी डेब्यू फिल्म ‘हीरोपंती’ की कामयाबी ही है। दरअसल, ‘हीरोपंती’ में काम करने के बाद मुझे बच्चों एवं टीनएजर का भरपूर प्यार मिला। उनके प्यार को मैं सूद समेत वापस करना चाहता था। यह तभी संभव था, जब कोई ऐसा प्रोजेक्ट मिले, जिसके जरिये मैं अपना कर्ज उतार सकूं। चूंकि, ‘हीरोपंती’ में बच्चों और युवाओं ने मुझे खासा प्रोत्साहित किया, जो जीवन को सेलिब्रेट करते हैं, जिंदगी में सकारात्मकता फैलाते हैं, इसलिए मैंने यह बात कोरियोग्राफर अहमद खान से शेयर की। अहमद हमारे साथ काम करने के लिए तैयार हो गए। फिर टी-सीरीज को भी हमारा आइडिया पसंद आया और उसी का नतीजा है ‘जिंदगी आ रहा हूं मैं’। यह वीडियो युवाओं के सपनों और जीवन को समर्पित है।

यह आइडिया किसका था और इससे कैसे जुड़े?
यह आइडिया मेरा था। इसी वजह से पहले यह जहां केवल एक आइडिया था, वहीं बाद में सबके सहयोग से संपूर्ण वीडियो के तौर पर सामने आया। पाकिस्तानी सिंगर आतिफ असलम ने इस वीडियो में अपनी आवाज दी है। बैकग्राउंड स्कोर अमाल मलिक ने दिया है, जबकि गीत मनोज मुंतशिर ने लिखा है। वीडियो में मैं अपनी डांस टीम के साथ हूं, जो एक्रोबेट्स की प्रैक्टिस करते हैं। वैसे, यह गाना बट पर बेस्ड है। हमारी कोशिश रही कि आजाद संगीत की संस्कृति एक बार फिर लौटे। अहम बात यह है कि इस वीडियो में मेरे साथ आतिफ असलम ने भी डांस किया है। आतिफ ने इससे पहले कभी ऐसा नहीं किया है, क्योंकि उनके पास कोरियोग्राफी सीखने के लिए समय ही नहीं था।


आप यह जताने की कोशिश तो नहीं कर रहे हैं कि आपकी रुचि डांस में ही है?
इस बात से मुझे इंकार नहीं है कि डांस मुझे बहुत प्रिय है और मशहूर पॉप गायक माइकल जैक्सन मेरे आदर्श हैं। यही वजह है कि मैं बड़े पर्दे पर माइकल जैक्सन का किरदार निभाना चाहता हूं। यह मेरा सपना है कि मैं माइकल जैक्सन की जिंदगी पर आधारित किसी फिल्म में मुख्य भूमिका निभाऊं। लंबे समय से मैं ऐसा करने की सोच रहा हूं। इसके लिए मैंने जैक्सन पर काफी शोध भी किया है। अगर मुझे कोई ऐसा प्रस्ताव मिलता है, तो मुझे उनके जैसा शरीर पाने के लिए अपना वजन कम करना होगा, उनके जैसे हाव-भाव लाने होंगे। यह फिल्म करना मेरे लिए सबसे ज्यादा खुशी की बात होगी।

आपको एक्शन सीन ज्यादा पसंद हैं?
जी हां, निश्चित रूप से मारधाड़ वाले दृश्य मेरी विशेषता हैं, लेकिन मेरे लिए पूरी फिल्म की शूटिंग बराबर महत्व रखती है। मुझे फिल्म के नृत्य, मारधाड़ और संवेदनशील हर तरह के दृश्यों में कड़ी मेहनत करनी होती है, क्योंकि मुझे पता था कि इतना सारा टैलेंट दिखाने का बेहतर मौका बार-बार नहीं मिलता है। इसलिए मैं अपनी ओर से कोई कसर बाकी नहीं छोड़ना चाहता। सच कहूं, तो मैं अपनी डेब्यू फिल्म ‘हीरोपंती’ के जरिये दर्शकों पर वही छाप छोड़ना चाहता था, जो मेरे पिता ने अपनी फिल्म ‘हीरो’ में छोड़ी थी।

क्या आपका एक्टिंग में आना तय था?
नहीं, एक्टर बनना मेरी पहली प्राथमिकता नहीं थी। मैं खेलकूद के बीच रहकर ही बड़ा हुआ हूं, इसलिए एक्टर बनना मुझे पसंद नहीं था। लेकिन, इसके बावजूद कहीं-न-कहीं मुझे लगता था कि आखिरकार मैं एक्टर ही बनूंगा।


अपने आने वाले प्रोजेक्ट्स के बारे में बताएं?
कोरियोग्राफर और फिल्ममेकर अहमद खान जल्द ही मुझे अपनी फिल्म में डायरेक्ट करते दिखेंगे। इस फिल्म में दर्शकों को बहुत सारा कांटेपररी एक्शन और डांस सीक्वेंस देखने को मिलेगा। ‘हीरोपंती’ के साथ ही मैंने साजिद नाडियावाला के साथ तीन फिल्मों की डील की थी। उस डील के तहत दूसरी फिल्म ‘बागी’ बहुत जल्द फ्लोर पर जाने वाली है। इस फिल्म का निर्देशन एक बार फिर शब्बीर खान ही करेंगे। यह एक एक्शन फिल्म होगी, जबकि इसमें डांस का भी भरपूर तड़का दिखेगा। साथ ही प्रोड्यूसर एकता कपूर की रेमो डिसूजा के डायरेक्शन में फिल्म ‘फ्लाइंग सिक्ख’ में सुपरहीरो के तौर पर नजर आऊंगा। इस फिल्म में मेरे अपोजिट श्रीलंकाई ब्यूटी और बॉलिवुड एक्ट्रेस जैकलीन फर्नांडिस हैं। ‘फ्लाइंग सिक्ख’ में मैं सरदार की भूमिका, जबकि जैकलीन भरतनाट्यम डांसर की भूमिका में होंगी। फिल्म में मेरे खास स्टंट्स भी होंगे।

आप एक बहुत अच्छे फुटबॉल खिलाड़ी हैं, लेकिन उसे छोड़ क्यों दिया?
मैंने फुटबॉल छोड़ी नहीं है। अभी भी खेलता हूं, लेकिन खेलना अब कम हो गया है। भारत में क्रिकेट और दूसरे खेलों के मुकाबले फुटबॉल का कोई स्कोप नहीं है। जब ये बात मेरी समझ में आई, तो मैंने अभिनय को अपना करिअर बना लिया।

अपनी फिटनेस को लेकर भी आप बहुत सजग होंगे?
फिटनेस तो बचपन से ही मेरी जिंदगी का हिस्सा रही है। मैंने मार्शल आर्ट की ट्रेनिंग ली है। एथलीट भी हूं। इसके अलावा जिम्नास्टिक भी करता हूं, जिससे मेरा शरीर लचीला रहता है। इन सबको मिलाकर ही मेरी जिंदगी बनती है और इन सबको अपनी जिंदगी में बनाए रखने के लिए फिट रहना पहली जरूरत है। जब से फिल्मों में करिअर तलाशना शुरू कर दिया था, तब से इन सब में डांस भी जुड़ गया है।

अपनी डाइट के बारे में कुछ बताएं?
मुझे वैसे तो शाकाहार ज्यादा पसंद है, लेकिन अपनी सेहत की जरूरतों को देखते हुए मैं नॉनवेज को भी अपनी डाइट का हिस्सा बनाता हूं। मैं अपने खाने में प्रोटीन को बनाए रखने के लिए दालें और अनाज का इस्तेमाल करता हूं। स्मोकिंग और ड्रिंक से दूर रहता हूं। सुबह नाश्ते में अंडे की सफेदी का ऑमलेट और ओटमील खाता हूं। स्नैक्स में ड्राईफ्रूट आदि लेता हूं। लंच में ब्राउन राइस के साथ चिकन और उबली हुई सब्जियां खाता हूं। शाम को प्रोटीन शेक लेता हूं। उसके बाद जिम्नास्टिक करता हूं और रात के खाने में फिश और ब्रोकली की सब्जी लेता हूं।

Leave a Reply