तमाशा से उम्मीद है: गौतम अरोडा

प्रेमबाबू शर्मा 
साउथ की अनेक फिल्में करने के बाद में गौतम अरोडा फिल्म ‘तमाशा से बालीवुड में डेब्यू कर रहे है। इम्तिआज अली द्वारा निर्देशित तमाशा में मैेन लीड में रणवीर कपूर और दीपिका है। गौतम को फिल्म तमाशा से काफी उम्मीद है। उनका कहना है कि फिल्म में रोल छोटा होने के बाद भी यादगार रोल हैं।

दिलवाले दुल्हनियां ले जाएंगें, और बर्फी जैसी फिल्मों कायल रहे गौतम सही मायने में सलमान खान के दीवाने रहे है। वह सलमान खान के तारीफों के पुल बांधते नही थकते हैं। गौतम ने कहा कि बॉलीवुड में सबसे अच्छा अनुभव सलमान खान के साथ का रहा है।

‘वह एक अद्भुत इंसान हैं, लोगों को सलमान के बारे में गलतफहमी है। सलमान सेट पर हुकम नहीं देते वह अपनी राय दूसरों पर नहीं थोपते। जब आप उनका साथ चाहते हैं तो वह हमेशा आपके साथ होते हैं। 
गौतम को बचपन से ही अभिनय का शौक था,लेकिन बालीवुड में कोई दूर तक रिश्तेदार नही था। इसलिए काफी मे सघर्ष करना पडा।पहले माॅडलिंग फिर डीजे और अभिनय ।आज वह तीनों ही जगह सक्रिय है। गौमत की कई फिल्म साउथ में हिट रही है। अब पहली बार ‘तमाशा’ हिन्दी फिल्मों की रूख कर रहे है। उनका कहना है कि ‘मैं चुनौती मानता हॅू हर किरदार को । हाल में ही उनसे बातचीत करने का मौका मिला। पेश है, मुलाकात के अंशः

लंबे गैप बाद फिल्म इंडस्ट्री में वापसी हो रही है। आपके लिए यह कैसा अनुभव रहा?
तीन वर्षों के बाद पुनः फिल्म इंडस्ट्री में आगे आना स्वयं में काफी चुनौतीपूर्ण था। पिछले कई वषों में मैं माॅडल ,डीजे और अभिनेता तो बन गया, परंतु अपनी जड़ों तथा हकीकत से दूर चले गया। इस गैप के विभिन्न पहलुओं का जानने का मौका मिला। यह अनुभव भी काफी जरूरी था। लेकिन अब मैं नई तरीके से फिट होकर तमाशो वापिसी कर रहा हॅू।

‘तमाशा’ फिल्म की शूटिंग के दौरान रंणवीर कपूर के साथ यादगार पल कौन से रहे?
शूटिंग के दौरान रणवीर के साथ काम करते हुए मैंने उनको बहुत बारीकी से देखा और उनसे प्रेरणा भी लेते रहा।लेकिन मानना है कि रणवीर कपूर बहुत मंझे कलाकार है और काम के प्रति अपनी जिम्मेदारी समझते है।

फिल्मोद्योग में अपनी वापिसी को किस नजर से देखते है?
अभी मेरा अच्छा समय आना है, इसीलिए मैंने बालीवुड की ओर रूख किया है। आज मेरे पास कई फिल्मों के प्रस्ताव है।

आप किस प्रकार के रोल पंसद करते है ?
मैं कॉमेडी और रोमांटिक फिल्म करना चाहता हूं। परंतु मुझे इसका अधिक मौका नहीं मिला। इस फिल्म के दौरान मैंने काफी एंज्वाय किया।

इम्तिआज अली काफी सुलझे डारेक्टर है,उनके साथ काम करने कैसा अनुभव रहे ?
इम्तियाज जी,अनुभवी व सुलझे इंसान है,कलाकारों से कैसे काम लिया जाता है वह उनकी नब्ज जानते है,और उसी के अनुरूप काम लेते है। मेरा उनके साथ करने का एक अलग ही अनुभव रहा है।

साउथ की फिल्मोें अपेक्षा कर रहे है,बालीवुड में काम करने की कोई खास वजह। जबकि जबकि अधिकांश कलाकार साउथ की और कूंच कर रहे है?
मेरे पास भी साउथ कई फिल्मों के आफर है,लेकिन तमाशा में काम करने का आफर मिला तो मैने हाॅ कर थी।

आप माॅडल और डीजे भी कैसे अपने को मैनेंज करते हो?
मैं कम किन्तु अच्छा काम करना पंसद करता हॅू। उसी के मुताबिक काम करता हॅू,साथ ही इस वक्त का ध्यान रखता हॅू कि किसी की भी डेटस क्लेश ना हो।

Leave a Reply