‘‘पी एफ टी आई का नाटक मंचन “सरकारी सिस्टम पर कटाक्ष’’

अशोक कुमार निर्भय / निशा जैन

पदार्पण फिल्म्स एंड थियेटर के द्वारा लोक कला मंच सभागार में हिंदी नाटक ‘सुखिया मर गया भूख से’ और ‘यमलोक में हंगामा’ की प्रस्तुति की गई। जिसका निर्देशन भूपेंद्र तितरा द्वारा किया गया। ‘सुखिया मर गया भूख से’ नाटक राजेश कुमार द्वारा लिखित नाटक है। जो सरकारी सिस्टम पर कटाक्ष करता है भूख जो की कोई बीमारी नही है। उसे बीमारी का रूप दर्शा सिस्टम के कई नुमाइंदो पर भारी व्यंग किया गया। साधारण आदमी का सच और सिस्टम की बुराई का अच्छा प्रस्तुतीकरण था। ‘यमलोक में हंगामा’ नाटक भूपेंद्र तितरा द्वारा लिखित नाटक है इस नाटक में समाज में व्याप्त नशे से उत्पन स्थिति और मौत का वर्णन है जिसमे लोग मर- मर कर यमलोक पूरी पहुंच जाते है और यमलोक में अजीबो गरीब स्थिति उत्पन्न हो जाती है । व्यंग के साथ नशे की कुरीति पर अच्छा कटाक्ष है। 

पदार्पण फिल्म्स एंड थियट्र द्वारा इस पर हिंदी शॉर्ट-फिल्म भी बनायीं गई है जिसका ट्रेलर भी पर्दर्शित किया गया। इस कार्यक्रम का शुभ आरम्भ गणेश वंदना के नृत्यगान के साथ शुरू किया गया इसमें मुख्य अतिथि के रूप में एडिशनल डायरेक्टर जेनेरल ऑफ भारत सरकार श्रीमती प्रिया सिंह पॉल और एन जी ओ डेवलप इंडिया फाउंडेशन की अध्यक्ष श्रीमती सीमा मिश्रा उपस्थित थी। जिन्होंने इन दोनों नाटको में से बेस्ट कलाकारों को पुरस्कार देकर पुरुस्कृत किया और उनके अभिनय की प्रशंसा के साथ-साथ उन्हें उज्जवल भविष्य की शुभकामनाये दी। इस रंगा-रंग कार्यक्रम में अश्वनी, हिमांशु, वासु, उदित, ताबिश, अमित, मास्टर कृष्णा, मास्टर गौरव , आकाश, पलका, दिलशाद, निहारिका, ऋषभ, विपिन, श्वेता, नक्षत्र, गौरव, , विशाल , रूबी, कृतेश, हीना, सुनील, सचिन, श्रयांश ने अपने अभिनय और नृत्य से लोगो का खूब मनोंरजन किया।

Leave a Reply