भारत में बाॅक्सिंग को बढ़ावा देगें आमिर खान

प्रेमबाबू शर्मा​


भारत में बाॅक्सिंग के खेल को बढ़ावा देने के प्रयास में ओलम्पिक सिल्वर मैडलिस्ट ब्रिटिश बाक्सिंग चैम्पियन आमिर खान ने एक प्रेस प्रीव्यू की मेजबानी की। खान ने अपने ब्राण्ड के माध्यम से भारत में बाॅक्सिंग को बढ़ावा देने की अपनी रणनीतियों एवं योजनाओं के तहत यह पहल की है जिसके द्वारा भारतीय बाॅक्सरों को अन्तरराष्ट्रीय स्तर पर प्रो बाॅक्सिंग में भारत का प्रतिनिधित्व करने का मौका मिलेगा। भारत स्थित मिक्स्ड मार्शल आर्ट्स संगठन, सुपर फाईट प्रोमोशन्स ने उनके साथ हाथ मिलाए हैं, खान बिल दोसांझ (सीईओ, सुपर फाईट प्रोमोशन्स) के साथ एक साझेदार हैं।

सुपर फाईट प्रोमोशन्स के साथ एके प्रोमोशन्स ने भी दक्षिण-पूर्वी एशिया में एक इन्टरनेशनल बाॅक्सिंग लीग की शुरूआत की योजना बनाई है, जिसमें भारत एक मुख्य हब के रूप में शामिल है। इसका आयोजन अगले साल किया जाने की उम्मीद है।’’

सुपर फाईट प्रोमोशन्स प्रा. लिमिटेड के सीईओ बिल दोसांझ ने बताया,‘‘आमिर दुनिया की युवा एवं सर्वश्रेष्ठ बाॅक्सिंग प्रतिभाओं में से एक हैं, हम भारत में उनके इस प्रयास के लिए उनको पूरा सहयोग प्रदान करेंगे। लीग के बारे में बात करते हुए उन्होंने कहा- एक क्रिकेट प्रेमी देश में बाॅक्सिंग लीग अपने आप में एक आवश्यकता है। वर्तमान में हम एक ऐसे ही मंच की योजना बना रहे हैं, देश में बाॅक्सिंग के खेल के लिए अन्तरराष्ट्रीय मंच उपलब्ध कराना हमारा मुख्य उद्देश्य है। सुपर फाईट प्रोमोशन्स के लिए योजनाओं के बारे में पूछे जाने पर उन्होंने बताया- वर्तमान में हम नियमित लाईव टेलीवाइज़्ड कार्यक्रमों के माध्यम से भारत एवं अमेरिका के बाज़ार पर ध्यान केन्द्रित कर रहें हैं, जल्द ही हम अन्य देशों में विस्तार की योजनाएं भी बनाएंगे। जल्द ही मिक्स्ड मार्शल आटर््स की ओर से कुछ बड़ी खबरें आने की उम्मीद है।’’

आमिर खान एक ब्रिटिश प्रो बाॅक्सर हैं जो डब्ल्यूबीए एवं आईबीएफ लाईटवेट के खिताब के साथ दो बार विश्व चैम्पियन रह चुके हैं।

वर्तमान में उनके पास डब्ल्यूबीसी सिल्वर वेल्टरवेट का खिताब है और वे तीन वेट क्लासेज़ में प्रतिस्पर्धा कर चुके हैंः लाईटवेट, लाईट वेल्टरवेट एवं वेल्टर वेट। खान सबसे युवा ब्रिटिश ओलम्पिक बाॅक्सिंग मैडलिस्ट हैं जिन्होंने मात्र 17 साल की उम्र में 2004 एथेन्स ओलम्पिक्स में रजत पदक जीता है। वे 22 साल की उम्र में डब्ल्यूबीए लाईट वेल्टरवेट का खिताब जीतने वाले अब तक से सबसे युवा ब्रिटिश वल्र्ड चैम्पियन भी हैं। इन्टरनेशनल बिजनेस टाईम्स ने उन्हें 2011 में पाउण्ड बाॅक्स के लिए आठवें सर्वश्रेष्ठ पाउण्ड की रैंकिंग दी है। एक प्रो बाॅक्सर के रूप में खान दुनिया के नौ चैमिपयनों से जीत हासिल कर चुके हैं। इनमें एन्ड्रियास कोटेलनिक, मारकोज़ मैडाना, जुलिया डियाज़, लुईस कोलाज़ो, क्रिस एलगिरी, पाॅली मैलिगनेगी, डेवोन एलेक्ज़ेन्डर, मारको एन्टोनिया बरेरा एवं ज़ैब जुदाह शामिल हैं।

Leave a Reply