ग्रुप आर्ट प्रदर्शनी वास्तव में मानवीय संवेदना और कला का अनूठा संगम है – अशोक कुमार निर्भय


वरिष्ठ संवाददाता

नई दिल्ली। दूसरी ग्रुप आर्ट प्रदर्शनी का आयोजन दिल्ली की प्रसिद्ध आर्ट गैलरी आई फैक्स में किया जा रहा है। पिछले दिनों दूसरी ग्रुप आर्ट प्रदर्शनी का उद्घाटन मारवाह स्टूडियो के संस्थापक एवं शिक्षाविद संदीप मारवाह ने किया।यह प्रदर्शनी 1अप्रैल तक चलेगी। उद्धघाटन समारोह के मौके परसंदीप मारवाह ने अपने सम्बोधन में कहा कि अपनी अपनी इन रचनाओं के जरिए कलाकारों ने फिर से लोगों को जीने और जीवन में आगे बढ़ने के लिए प्रेरित किया है। उन्होंने कहा कि जीवन को को समझने के लिए इस तरह के कार्यक्रम होना जरूरी भी हैं। 

इन कला प्रदर्शनी कार्यक्रमों से ज्यादा से ज्यादा लोगों को जोड़ना चाहिए। कैनवास पर ग्रामीण भारत के किसान का दर्द उकेरा गया है । वहीँ अध्यात्म और संस्कृति की झलक इस प्रदर्शनी में देखने को मिल रही है वहीँ आदिवासी संस्कृतियों का अनूठा संगम देखने को मिल रहा है। तीसरे दिन प्रदर्शनी को देखने पहुंचे वरिष्ठ पत्रकार एवं रिलेशन ऑफ़ इंडिया न्यूज़ के समाचार संपादक अशोक कुमार निर्भय ने कला प्रदर्शनी देखने के दौरान अपने विचार प्रकट करते हुए कहा कि यहाँ प्रदर्शित पेंटिंग्स में वन्य जीवों के प्रति प्रेम को फोकस किया गया है। 
कुछ कलाकारों ने प्रकृति और संस्कृति एवं अध्यात्म जगत संवेदनाओं को खूबसूरती से कैनवास पर उकेरा है, कुछ ने मानवीय संवेदना और कुछ कलाकारों ने तो तकनीक और सौंदर्य विन्यास तक को अपनी पेंटिंग्स में उकेर कर रख दिया है। वाटरकलर,पोस्टर कलर,पेंसिल स्केच,लैण्ड स्क्रैप,आयल कलर,इंक पेन आदि के प्रयोग से बनाये गये आकर्षक पेंटिंग का प्रदर्शन किया है। फोटो खींचने के माहिरों ने ग्रामीण भारत की तस्वीर और राजस्थान की संस्कृति और त्योहारों को फोकस करके अपनी व्यापक सोच और रचनात्मकता को यहाँ अपने खींचे चित्रों में प्रदर्शित किया है। उन्होंने कहा कि यह प्रदर्शनी अपने आप में अनूठी है। उन्होंने आयोजन की पुरोधा डॉ.आरती मक्कड़ को अपनी शुभकामनाएं प्रेषित की। इस प्रदर्शनी में भाग लेने वाले फोटोग्राफर्स में श्रीमती सीमा ठाकुर गुप्ता,अर्पित गुप्ता,वरिष्ठ पत्रकार एवं बहुमुखी प्रतिभा के धनी लेखक सुरेन्द्र सिंह डोगरा ने भी अपनी अपनी विलक्षण फोटो को प्रदशित किया है. फोटोग्राफर गुप्ता युगल ने राजस्थानी परिवेश को अपने कैमरे में कैदकर उम्दा चित्र तथा डोगरा ने “प्रक्रति की अनमोल रचना” नामक शीर्षक पर आधारित, हिमाचल प्रदेश की प्राक्रतिक सौन्दर्यता को अपने फोटो के जरिए प्रदशित किया है. उक्त प्रदर्शनी में कुल 51 कलाकारों और फोटोग्राफरों ने हिस्सा लिया।
पिछले चार दिनों में उक्त प्रदर्शनी में 51 कलाकारों की 150 से अधिक पेंटिंग्स एवं फोटो को लगभग पांच से भी अधिक कलाप्रेमी देख चुके हैं. इस प्रदर्शनी में सांस्क्रतिक कार्यक्रम भी आयोजित हुए जिनमें मशहूर सूफी गायिका मस्तानी बिन्नी, डिम्पल मल्होत्रा, ड्रमर दलीप मागी ने भी भी अपनी प्रतिभा से दर्शकों का मन मोह लिया. इस प्रदर्शनी में विशेष तौर प्रोफसर सैमसन डेविड, विश्व विख्यात कार्टूनिस्ट जगजीत राणा, फिल्म लेखक एवं निदेशक हरविंदर मंक्कड, बॉलीवुड एवं टीवी कलाकार अमित बिग बी (प्रशिद्ध अभिनेता अमिताभ के हमशक्ल), दिल्ली इंटरनेशनल स्कुल, द्वारका की प्रधानाचार्या रश्मि मलिक, मास कॉम के छात्र तुषार मालिक, 
पर्यावरणविद पंकज कुमार दत्ता, राज्य सभा टीवी चैनल के राष्ट्रीय ब्यूरो चीफ एवं वरिष्ठ पत्रकार अरविन्द कुमार सिंह, दिल्ली पत्रकार संघ के पूर्व अध्यक्ष एवं वरिष्ठ पत्रकार मनोहर सिंह (पी टी आई में कार्यरत), युवा पत्रकार नेत्रपाल शर्मा (पी टी आई में कार्यरत), मीडिया मिरर के प्रबंधक संपादक प्रशांत राजावत, वरिष्ठ फोटोग्राफर सुजान सिंह-, अमेरिका से विशेष रूप से आमंत्रित अफ़ग़ानिस्तान की पहली महिला पत्रकार नादिरा ऍफ़रान, मशहूर फोटोग्राफर नरेंदर शर्मा, वरिष्ठ फोटोग्राफर नफे राम यादव, वरिष्ठतम फोटोग्राफर राजेंदर वाधवा, समाज सेवी एवं फिल्म निदेशक अनामिका ठाकुर, देहरादून निवासी एवं युवा समाजसेवी हिमांशु पुण्डीर, बिकास दास, प्रमुख समाज सेविका निधि गुप्ता, संजय मिश्र, पार्थ समेत अनेक कला,साहित्य,टीवी और मनोरंजन जगत की हस्तियों ने भी प्रदर्शनी में कलाकारों की प्रदर्शित प्रतिभा को सराहा.

Leave a Reply