महाराष्ट्र बना भारत में पहले साॅफ्टबाॅल लीग का विजेता

प्रेमबाबू शर्मा

बैडबुल्स साॅफ्टबाॅल लीग 2016 के जीत का खिताफ महाराष्ट्र को मिला। इसका आयोजन साकेत स्पोर्ट्स काॅम्प्लेक्स में किया गया। फाइनल में महाराष्ट्र और पंजाब के बीच भिड़ंत में 2-1 से पंजाब को हरा दिया।
साॅफ्टबाॅल लीग तीन दिन का आयोजन था। इसमें पुरुषों की 8 राष्ट्रीय टीमें थीं – दिल्ली, पंजाब, चंडीगढ़, केरल, तेलंगाना, मध्य प्रदेश, महाराष्ट्र और छत्तीसगढ़। यह लीग बैडबुल्स स्पोर्ट्स क्लब की परिकल्पना है और इसे दिल्ली साॅफ्टबाॅल संघ से मान्यता मिली है।

बैडबुल्स स्पोर्ट्स क्लब के आयोजक सचिव एवं कोषाध्यक्ष श्री ब्रिटो स्टीफन ने कहा, ‘‘विजेता टीम को आकर्षक नकद पुरस्कार के साथ ट्राॅफी भी दी गई। साॅफ्ट बाॅल लीग के सीज़न-2 में हम भारतीय टीमों से मुकाबले के लिए अंतर्राश्ट्रीय टीमों को आमंत्रित करेंगे।’’

बैडबुल्स स्पोर्ट्स क्लब के महासचिव एंथनी वनराजा ने कहा, ‘‘ हम ने सबसे बड़ी बाधा पार कर ली है। अब इस खेल, साॅफ्टबाॅल और भारत के बाॅल खिलाड़िसों को मान्यता मिल गई है और इसके लिए दिल्ली के समर्थकों को हम धन्यवाद देते हैं। इस आयोजन की योजना बनाते हुए कई कठिनाइयां आईं पर लक्ष्य की ओर बढ़ते हुए टीम बैड बुल्स ने सारी बाधाओं को दूर कर लिया। आज लीग के परिणाम हमारे सामने हैं। हम इसे उच्च स्तर पर ले जाना चाहते हैं।’’

श्री एंथनी वनराजा ने कहा, ‘‘हम इस साल कम से कम 4 खिलाड़ियों को अंतर्राश्ट्रीय आयोजन में ले जाने का लक्ष्य रखते हैं।’’

साॅफ्टबाॅल लीग का मकसद आरंभिक स्तर पर बेसबाॅल और साॅफ्टबाॅल को लोकप्रिय बनाना है। स्कूलों और काॅलेजों में इसे वैकल्पिक खेल के रूप में पहचान दिलाना है। यह लीग मौजूदा टीमों के लिए प्रतिभा दिखाने का जरबदस्त मंच है जो कि इस खेल में बहुत कम मिलता है। हालांकि भारत में इस खेल का प्रामाणिक इतिहास है और यह खेल काफी वर्षों से भारत में खेला जा रहा है।’

Leave a Reply