बेटे के प्यार के लिए एक माँ का संघर्ष की कहानी माए नी’


-प्रेमबाबू शर्मा्

एक माँ और उसके बच्चे के बीच का बंधन, संसार के सबसे श्रद्धेय रिश्तों में से एक है, एक माँ-बेटे के रिश्ते की एक ऐसी ही कहानी चैनल ‘जिंदगी’ के नए शो ‘माए नी’ में नजर आएंगी। माहा मलिक द्वारा लिखित ‘माए नी’ का प्रीमियर 19 जुलाई को होगा और इसे हर सोमवार से शनिवार रात 9.50 पर केवल जिंदगी पर प्रसारित किया जाएगा।

माए नी की कहानी साबिहा (सामिया मुमताज) और उसके बेटे उजैफा (फहाद मुस्तफा) के आसपास घूमती रहती है, जिनकी खुशियाँ साबिहा के पहले पति फैसल की मौत के बाद पूरी तरह बिखर चुकी थी। बाद में, साबिहा के परिवारवालों ने उसे सोहेल से निकाह करने के लिए प्रेरित किया। निकाह के बाद साबिहा और उजैफा, सोहेल और उसके दो बच्चों के साथ रहने लगते हैं। शुरूआत में सोहेल उजैफा को स्वीकार करने में हिचकता है, लेकिन बाद में उसे स्वीकार कर लेता है। उसके बच्चे बेहद आज्ञाकारी हैं और साबिहा बेहद ख्याल रखते हैं। धीरे-धीरे सभी तीनों बच्चे बड़े हो जाते हैं और अपना-अपना जीवन बसाते हैं। हालाँकि, साबिहा और उजैफा के बीच के संबंधों में उस वक्त एक भयानक मोड़ आता है, जब उजैफा सानी (आईजा खान) से निकाह कर लेता है। यह नाटक एक माँ, पत्नी, सास, बहन और एक बेटी के रूप में एक औरत के संघर्ष पर केंद्रित है।

क्या साबिहा को उसके पति और बेटे से वैसा प्यार और सम्मान मिलेगा, जिसकी वह हकदार है? या फिर उसका बलिदान व्यर्थ चला जाएगा?
शो की मुख्य भूमिकाओं में खूबसूरत अदाकारा सामिया मुमताज और फहाद मुस्तफा के अलावा आईजा खान, आबिद अली, सामी खान, महम नियाजी और आगा शिराजी जैसे प्रतिभाशाली कलाकार भी शामिल हैं।

Leave a Reply