रामलीला आयोजन से समाज में स्वच्छ नैतिक मूल्यों का निर्माण होता है- जगदीश मुखी

द्वारका में सबसे ऊँचा रावण द्वारका रामलीला सोसाइटी द्वारा किया जायेगा

(एस. एस.डोगरा)

नई दिल्ली: रामलीला आयोजन से समाज में स्वच्छ नैतिक मूल्यों का निर्माण होता है-अंडमान निकोबार के राज्यपाल जगदीश मुखी ने अपने संबोधन में कहा कि पूर्व विधायक राजेश गहलोत एवं द्वारका श्री रामलीला सोसायटी के सरंक्षक के नेत्तृव में आयोजित भव्य रामलीला सच में दिल्ली ही नहीं बल्कि पुरे भारत वर्ष की सबसे बड़ी रामलीला का स्वरूप ले चुकी है. वहीँ भाजपा के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष श्याम जाजू ने भी रामलीला ग्राउंड, सेक्टर-10 द्वारका में द्वारका रामलीला के लिए अपने उद्घोष में भव्यता एवं समस्त रामलीला पदाधिकारियों एवं कार्यकर्ताओं की खुले दिल से तारीफ़ की. 

इसी मौके पर सांसद प्रवेश वर्मा ने भी भगवान राम के आदर्शों का आज की जीवन में महत्त्व पर प्रकाश डाला. द्वारका रामलीला में बलि-सुग्रीव, हनुमान-रावण संवाद, रावण-भविष्ण, सीता-रावण, हाई टेक विजुअल के माध्यम से उड़ता हनुमान द्रश्य ने हजारों की संख्या में उपस्थित जनसमूह का मन मोह लिया. लंका-दहन तथा पर्यावरण मुक्त आतिशबाजी भी द्वारका रामलीला का प्रमुख आकर्षण रही.
इस भव्य रामलीला को देखने श्रद्धालुओं की अपार भीड़ रामलीला ग्राउन्ड, सैक्टर-10,द्वारका में दूर दूर से आने लगी है. सोसाइटी के मुख्य सरंक्षक एवं पूर्व विधायक राजेश गहलोत ने बताया कि पिछले नौ दिनों में रामलीला स्थल पर दर्शकों संख्या ढेड़ लाख का आंकड़ा पार कर चुकी है. इस मौके पर नेशनल लॉ यूनिवर्सिटी के संस्थापक उप कुलपति डॉ. रणवीर सिंह, इण्डिया स्पोर्ट्स संघ के राष्ट्रीय अध्यक्ष सुनील गुप्ता, जूनागढ़, हरिद्वार के प्रमुख डॉ.उमाकांत सरस्वती जी महाराज भी उपस्थित थे.
इस सोसाइटी द्वारा छठे वर्ष के आयोजन रामलीला के आकर्षक दृश्यों को प्रतिभाशाली कलाकारों ने पेश किया जिसे देखकर आम दर्शकों से लेकर राजनैतिक, सामाजिक, साहित्यकार, मीडिया हस्तियों को भी प्रभावित किया. सोसाइटी के अध्यक्ष डॉ अशोक यादव एवं महासचिव राजीव सोलंकी के अनुसार इस बार दशहरा समारोह पर छ लाख से अभी अधिक श्रधालुओं के आने की सम्भावना है. जहाँ विश्व का 125 फुट सबसे ऊँचा रावण दहन किया जाएगा.
इस बार तीन नहीं बल्कि चार पुतले फूंके जाएगें जिनमे चौथा पुतला पाकिस्तान के आतंकवाद को जड़ मिटाने के लिए जलाया जाएगा. इसके अलावा बेहतरीन लेकिन पर्यावरण मुक्त आतिशबाजी भी आकर्षण का केंद्र होगी. भारत के गृह मंत्री राजनाथ सिंह तथा वरिष्ठ पत्रकार-लेखक, संपादक सांसद तरुण विजय भी शिरकत करेंगे.

Leave a Reply