कवि, लेखक और शिक्षक स्वर्गीय हरिवंशराय बच्चन को उनकी 14 वीं पुण्यतिथि पर श्रद्धासुमन अर्पित

साहित्य मनीषी समाज के तत्वावधान में आज रोहिणी क्षेत्र स्थित बरवाला में वरिष्ठ लेखक, गांधीवादी विचारक और चिंतक, समाज के अध्यक्ष दयानंद वत्स ने सुप्रसिद्ध कवि और साहित्यकार स्वर्गीय हरिवंशराय बच्चन को उनकी 14वीं पुण्यतिथि पर अपने श्रद्धासुमन अर्पित करते हुए उन्हें भावभीनी श्रद्धांजलि दी। अपने संबोधन में श्री वत्स ने कहा कि हरिवंशराय बच्चन की पहचान भले ही मधुशाला से बनी हो लेकिन सच तो यह है कि दो चट्टानें के लिए उन्हें साहित्य अकादमी पुरस्कार मिला और तदुपरांत सोवियत लैंड पुरस्कार से सम्मानित किया गया। भारत सरकार ने उन्हें साहित्य और शिक्षा के लिए पद्मभूषण से अलंकृत किया। निशा निमंत्रण, मधुकलश, क्या भूलूं क्या याद करुं, उमर खय्याम की रुबाईयां भी बच्चन जी की उत्कृष्ट कृतियां हैं।

Leave a Reply