डी.ए.वी पब्लिक स्कूल अशोक विहार फेज-4, दिल्ली बना देश का पहला पेपरलेस डिजिटल लैब स्कूल

डी.ए.वी पब्लिक स्कूल, फेज 4,अशोक विहार ने आज अपनी स्थापना के 25 वर्ष पूर्ण करने के उपलक्ष्य में रजत जयंती समारोह युगान्तर का भव्य आयोजन प्रधानाचार्या श्रीमती कुसुम भारद्धाज की अध्यक्षता में स्कूल प्रांगण में धूमधाम से मनाया गया।

मुख्य अतिथि डी.ए.वी कॉलेज प्रबंधन समिति के अध्यक्ष श्री पूनम सूरी ने दीप प्रज्ज्वलित कर समारोह का उदघाटन किया। इस अवसर पर डीएवी सी.एम. सी के उपाध्यक्ष डॉ. एन के ओबरॉय, सचिव श्री रविन्द्र कुमार, कोषाध्यक्ष डॉ. महेश चोपडा, डॉ, निशा पेशन, हंसराज कॉलेज की प्राचार्या डॉ. रमा शर्मा, स्कूल प्रबंधक प्रो. जी.आर साहनी, शिक्षाविद् दयानंद वत्स, शूटर संग्राम सिंह दहिया, श्रीमती शशि चांदला, पूर्व महानगर पार्षद श्री पी.के चांदला सहित दिल्ली के विभिन्न क्षेत्रों के डीएवी स्कूलों की प्रधानाचार्या श्रीमती रश्मि गुप्ता, श्रीमती स्नेह वर्मा, श्रीमती अनु अरोडा, श्रीमती राजवीर कौर, श्रीमती देविका दत्ता सहित हजारों की संख्या में अभिभावकों और छात्र-छात्राओं ने भाग लिया।
मुख्य अतिथि श्री पूनम सूरी ने इस अवसर पर स्कूल के कर्मठ कर्मचारियों, शिक्षकों, प्रधानाचार्या श्रीमती कुसुम भारद्वाज सहित विधालय के हजारों मेधावी छात्र-छात्राओं को सम्मानित किया। विधार्थियों ने मनोहारी सांस्कृतिक कार्यक्रम प्रस्तुत किए। स्कूल की शिक्षिका मीनू शर्मा के कुशल निर्दशन में नृत्य नाटिका युगान्तर का भव्य मंचन किया गया।
मुख्य अतिथि श्री पूनम सूरी ने इस अवसर पर कहा कि डीएवी पब्लिक स्कूल अशोक विहार देश का पहला पेपरलेस डिजिटल लैब स्कूल बन गया है जिसमे कक्षा ग्यारहवीं तक की कक्षाओं के छात्रों को विज्ञान विषय के लिए प्रेक्टिकल फाईल बनाने से मुक्ति मिल गयी है। अब छात्र टैब की सहायता से डिजिटली पेपरलेस कार्य कर रहे हैं। यह एक शुभ संकेत है। इसके लिए श्री सूरी ने प्रधानाचार्या श्रीमती कुसुम भारद्वाज और स्टाफ को अपनी शुभकामनाऐं दी और विधार्थियों के उज्ज्वल भविष्य की कामना की।

Leave a Reply