“हर बच्चा बन सकता है जीनियस” शैक्षिक प्रतियोगिता के विजेताओं को सम्मानित किया

जींद: ग्रामीण प्रतिभा विकास समिति(पंजी.) एवं साहिल विकलांग सह्यातार्थ समिति(पंजी.) के संयुक्त प्रयासों की बदौलत अभियान “हर बच्चा बन सकता है जीनियस” शैक्षिक प्रतियोगिता के दसवें सस्करण में समिति के मुख्य सरंक्षक एवं प्रमुख समाजसेवी सतीश राज देशवाल ने अपनी टीम के साथ विजेताओं को उनके स्कूलों में जाकर सम्मानित किया. उन्होंने जिला स्तर में प्रथम स्थान पर रहे जींद पब्लिक स्कूल खेरी तलोदा, में आठवीं कक्षा के छात्र मुदित को लैपटॉप, व खंड स्तर पर रहे तीसरी कक्षा की सिमरन, चौथी कक्षा के सावन, छठी कक्षा के रोहन, नौवीं कक्षा के नितेश एवं दसवीं कक्षा की प्रेरणा को टेबलेट, तीसरी कक्षा की वंशिका, छठी के छात्र हर्ष, सातवीं कक्षा के दीपक, आंठ्वीं कक्षा की शीतल, नौंवी कक्षा की तनूजा, दसवीं कक्षा के अभिषेक को साईकल सहित छ पंखे, सात इमरजेंसी लाइट, तीन प्रेस, इक्कतीस एजुकेशनल किट प्रदान की गई. जबकि गोपाल सीनियर सेकेंडरी स्कूल जींद में आठवीं कक्षा के अंशुल को एक टेबलेट, आठवीं कक्षा की ही अंजली को साईकल, एक पंखा, एक इमरजेंसी लाइट, दो एजुकेशनल किट वितरित की गई. हैप्पी सीनियर सेकेंडरी स्कूल में भी एजुकेशनल किट, नव दुर्गा सीनियर सेकेंडरी स्कूल, भिवानी रोड स्थित स्कूल में इमरजेंसी लाइट दो एजुकेशनल किट, संस्कार भारती हाई स्कूल रोहतक रोड को एक पंखा तथा ऑक्सफ़ोर्ड पब्लिक स्कूल जींद में छठी कक्षा की सान्या को टेबलेट तथा चौथी कक्षा के छात्र यशदीप को साईकल तथा एजुकेशनल किट से नवाज़ा गया. इस अवसर पर सतीश राज देशवाल, सुनील मलिक, नवीन सरोहा, मंदीप दहिया, अंशुल देशवाल आदि मौजूद रहे.

इन मेधावी छात्र-छात्राओं को पुरुस्कार सम्मान देते हुए समीति के मुख्य सरंक्षक सतीश देशवाल ने अपने सम्बोधन में प्रेरक सन्देश दिया तथा सभी उपस्थित विद्यार्थियों के उज्जवल भविष्य की कामना की. साथ ही उपस्थित शिक्षकों, अभिभावकों, स्कूली बच्चों को लोहड़ी एवं संक्राति पर्व की ढेर सारी शुभकामानाएं भी दी. गौरतलब है कि आगामी 26 जनवरी, 2017 को उक्त शैक्षिक प्रतियोगिता के ग्यारवें संस्करण की परीक्षा ली जाएगी जिसमें इस बारहवीं कक्षा तक के स्कूली बच्चें भी हिस्सा ले सकेंगे. आगामी परीक्षा में सवा लाख बच्चों द्वारा परीक्षा में शामिल होने के संभावना है. गणतंत्र दिवस के मौके पर ही समिति अपनी इस अभियान के सफलतापूर्वक यात्रा के अपने दस वर्ष पुरे करने के उपलक्ष्य में “भारत रत्न एवं पूर्व राष्ट्रपति अब्दुल कलाम साहेब को समर्पित विजन-2020 नामक अभियान पर एक स्मारिका का विमोचन एवं वितरण भी करेगी.

Leave a Reply