भारत छोडो आंदोलन अगस्त क्रांति की 75 वीं सालगिरह भारत का गौरवशाली इतिहास हैः दयानंद वत्स

अखिल भारतीय स्वतंत्र पत्रकार एवं लेखक संघ के तत्वावधान में आज संघ के मुख्यालय बरवाला में संघ के राष्ट्रीय महासचिव दयानंद वत्स की अध्यक्षता में अगस्त क्रांति भारत छोडो आंदोलन की 75 वीं वर्षगांठ के अवसर पर “स्वतंत्रता संग्राम में महात्मा गांधी की भूमिका” विषयक परिचर्चा का आयोजन किया गया। अपने संबोधन में श्री वत्स ने कहा कि 9 अगस्त 1942 को सर्वप्रथम गांधी जी ने ही अंग्रेजों भारत छोडो आंदोलन की शुरुआत की थी। तदुपरांत लाखों देशवासियों और स्वतंत्रता संग्राम के सेनानियों ने इसे आगे बढाया। उस समय देश को आजादी तो नहीं मिली थी लेकिन अंग्रेजों के पैर जरुर उखड गए थे। आजादी के लिये देश की यह अंतिम सबसे बडी लडाई थी। आज अगस्त क्रांति की 75 वीं सालगिरह पर हम सब राष्ट्र के पुनर्निर्माण का संकल्प लें। इस अवसर पर आचार्य सुभाष वर्मा, श्री प्रदीप श्रीवास्तव ने एक स्वर से स्वाधीनता आंदोलन में महात्मा गांधी के योगदान को सराहा।

Leave a Reply