नेपाल भारत अंतरराष्ट्रीय साहित्य रत्न सम्मान से सम्मानित हुए डॉ राजीव पाण्डेय


गाजियाबाद के कवि ,कथाकार, हाइकुकार डॉ राजीव कुमार पाण्डेय को नेपाल की वाणिज्यिक नगरी बीरगंज में आयोजित नेपाल भारत साहित्य महोत्सव 2018 में नेपाल भारत अंतरर्राष्ट्रीय साहित्य रत्न सम्मान से सम्मानित किया गया। साथ ही उनके द्वारा रचित उपन्यास का विमोचन भी हुआ। नेपाल भारत सहयोग मंच,ग्रीन केयर सोसायटी भारत, हिमालिनी पत्रिका के संयुक्त तत्वावधान में (11 से 13 अगस्त2018) त्रिदिवसीय नेपाल भारत साहित्य महोत्सव 2018 का बीरगंज नेपाल में आयोजन किया गया।

इस अंतरराष्ट्रीय साहित्य सम्मेलन में गाजियाबाद के प्रसिद्ध कवि कहानीकार, उपन्यासकार, हाइकुकार डॉ राजीव पाण्डेय को उनकी साहित्यिक सेवाओं के लिये और साहित्य द्वारा समाज का मार्गदर्शन करने हेतु अंतरराष्ट्रीय स्तर पर ‘नेपाल भारत अंतरराष्ट्रीय साहित्य रत्न सम्मान’ सहित तीन सम्मान प्राप्त हुए।

इस अवसर पर नेपाल राष्ट्र के प्रदेश नम्बर दो के मुख्यमंत्री श्री लालबाबू राउत , साहित्य महोत्सव के अध्यक्ष अशोक वैद्य, संयोजक गणेश प्रसाद लाठ, क्रांति धरा साहित्य अकादमी के अध्यक्ष प्रो0 योगेन्द्र शर्मा अरुण, ग्रीन केयर सोसायटी के अध्यक्ष और साहित्य महोत्सव के आयोजक डॉ विजय पण्डित, हिमालिनी पत्रिका के सम्पादक डॉ श्वेता वत्स,डॉ सच्चिदानंद मिश्र नेपाल उर्दू अकादमी के अध्यक्ष इम्तियाज अली, हैटोंडा अकादमी के अध्यक्ष अरुण राज सुमार्गी, अंकिता सुमार्गी आदि द्वारा समानित किया गया।

इसी साहित्य महोत्सव में डॉ राजीव पाण्डेय द्वारा महानगरीय ज्वलन्त विसंगतियों पर लिखे गये सामाजिक उपन्यास ‘बाहों में आकाश” का विमोचन भी हुआ । डॉ राजीव पाण्डेय ने महोत्सव के दूसरे सत्र में विशिष्ट अतिथि के रूप में भूमिका का निर्वहन करते हुए कई साहित्यकारों का समानित किया और नेपाल व भारत के कई कवियों लेखकों की पुस्तकों का विमोचन भी किया। इस महोत्सव में दोनों देशों के सैकड़ों साहित्यकार शामिल हुए।इस महोत्सव का मुख्य उद्देश्य नेपाल भारत साहित्य सांस्कृतिक, सम्बन्धों को ऊंचाइयां प्रदान करना था।

Leave a Reply