महिला सशक्तिकरण को समर्पित चित्रकला प्रदर्शनी में चित्रकार मृणमॉय ने नारी के त्याग और संघर्ष को कैनवास पर उकेरा: पद्मश्री गीता चंद्रन


इंडिया हैबिटेट सैंटर, लोधी रोड, नई दिल्ली स्थित विजुअल ऑर्ट गैलरी में मुख्य अतिथि प्रसिद्ध भरतनाट्यम नृत्यांगना पद्मश्री गीताचंद्रन ने विशिष्ठ अतिथि दि आर्ट ऑफ गिविंग फॉउंडेशन ट्रस्ट के राष्ट्रीय अध्यक्ष दयानंद वत्स के सान्निध्य में आज प्रख्यात चित्रकार मृणमॉय के चित्रों की प्रदर्शनी विवासियस का दीप प्रज्वलित कर शुभारंभ किया।

प्रदर्शनी का आयोजन कलाधर्मी क्यूरेटर श्री निपुन उमेश सोइन ने किया था। अपने संबोधन में मुख्य अतिथि गीताचंद्रन ने मृणमॉय के काम की सराहना करते हुए कहा कि चित्रकार ने नारी के विभिन्न स्वरुपों को जिस बारीकी के साथ दर्शाया है वह मर्मस्पर्शी और प्रेरक है। विशिष्ठ अतिथि श्री दयानंद वत्स ने इस अवसर पर बडी संख्या में उपस्थित कलाप्रेमियों, कला साधकों और कला मर्मज्ञों को संबोधित करते हुए कहा कि मृणमॉय के सभी चित्रों में महिला सशक्तिकरण का भाव छिपा हुआ है जिसे उन्होंने अपनी कल्पना शीलता और रंगों के माध्यम से महिलाओं के त्याग, संघर्षों और योगदान को चित्रित कर समाज को एक सार्थक संदेश देने का सराहनीय प्रयास किया है। इस अवसर पर राष्ट्रीय पुरस्कार प्राप्त चित्रकार मृणमॉय ने गीताचंद्रन और श्री दयानंद वत्स को अपनी बनाई हुई पेंटिंग्स भेंटकर सम्मानित किया। चित्र प्रदर्शनी.में प्रदर्शित चित्रों के केटेलॉग का भी लोकार्पण गीताचंद्रन ने किया। प्रदर्शनी 31जुलाई तक चलेगी।

Leave a Reply