राष्ट्रीय ध्वज के अभिकल्पक (जन्मदाता) स्वर्गीय पिंगली वैंंकैया को उनकी 142 वीं जयंती पर दी भावभीनी श्रद्धांजलि


सर्वोदय बाल विद्यालय प्रहलादपुर बांगर, दिल्ली के प्रांगण मे आज स्कूल के हजारों छात्रों और शिक्षकों ने प्रधानाचार्य श्री वी.के शर्मा की अध्यक्षता एवं शिक्षाविद् दयानंद वत्स के सान्निध्य में राष्ट्रीय ध्वज के अभिकल्पक (जन्मदाता) पिंगली वैकैया को उनकी 142 वीं जयंती पर भावभीनी श्रद्धांजलि अर्पित की गई। अपने संबोधन में श्री वत्स ने कहा कि महात्मा गांधी के कहने पर महान देशभक्त और कृषि वैज्ञानिक श्री पिंगली वैंकेया ने राष्ट्र ध्वज को डिजाइन किया। पहले यह लाल और हरे रंग का था जिसे गांधी जी के सुझाव पर केसरिया और शांति का प्रतीक सफेद रंग बीच में रखा गया। जालंधर के हंसराज के सुझाव पर इसमें प्रगति के प्रतीक चक्र को शामिल किया गया और इसे भारत के राष्ट्रीय ध्वज के रुप में स्वीकार कर लिया गया था। इस मौके पर प्रधानाचार्य श्री वी.के शर्मा ने कहा कि तिरंगा हमारी आन, बान और.शान का प्रतीक है। हजारों छात्रों ने राष्ट्रीय ध्वज के सम्मान की शपथ लेकर पिंगली वैंकेया को कृतज्ञ राष्ट्र की और से श्रद्धांजलि देकर याद किया।

Leave a Reply