वेद कुमार शर्मा द्वारा रचित “जिन्दगी जश्न है” पुस्तक का विमोचन इंडिया इंटरनेशनल सेंटर में हुआ


(छाया एवं रिपोर्ट: एस.एस.डोगरा)

नई दिल्ली: 11 नवम्बर, 2018 को इंडिया इंटरनेशनल सेंटर के कमलादेवी ब्लॉक के सभागार में वेद कुमार शर्मा द्वारा रचित “जिन्दगी जश्न है” पुस्तक का विमोचन इंडिया इंटरनेशनल सेंटर में हुआ. इस सुनहरे मौके पर इसी किताब के लेखक वेद कुमार शर्मा, प्रख्यात नाटककार रामेश्वर प्रेम जी, विश्व विख्यात प्रेरक लेखक जौली अंकल, इन्डियन आयल कारपोरेशन लिमिटेड के कार्यकारी निदेशक एवं साहित्य-कला प्रेमी रमेश समतानी, सोसाइटी फॉर हैप्पीनेस के अध्यक्ष जे के मेहता जी बतौर वक्ता के रूप में उपस्थित थे. जबकि इस किताब के प्रकाशक दी बुक लाइन सुनील भनोट सहित अनेक साहित्य-कला-पत्रकारिता क्षेत्र की हस्तियाँ विमोचन कार्यक्रम में मौजूद थी.

इसी कार्यक्रम के दौरान द्वारका परिचय से बातचीत करते हुए “जिन्दगी जश्न है” पुस्तक के लेखक वेद कुमार शर्मा ने बताया कि इस पुस्तक को लिखने के लिए लगभग दस महीने का समय लगा. इस किताब के माध्यम से लेखक ने जीवन को डिप्रेशन से बचाकर अपना जीवन कैसे ख़ुशी जीवन जीना चाहिए, उसी को परोशने का कार्य किया है. इस किताब की रोचकता का अंदाजा निम्न शेर से लगाया जा सकता है.

“व्हाट्स-एप देख से जो आ जाती है मुंह पे रौनक
मुस्कान को लगता है कि इन्सान का हाल अच्छा है”

इसी पुस्तक विमोचन के दौरान लेखक वेद कुमार शर्मा की लेखन प्रतिभा पर प्रख्यात नाटककार रामेश्वर प्रेम जी, विश्व विख्यात प्रेरक लेखक जौली अंकल, साहित्य-कला प्रेमी रमेश समतानी, सोसाइटी फॉर हैप्पीनेस के अध्यक्ष जे के मेहता जी ने भी प्रकाश डाला तथा इस तरह की अच्छी किताबों को पढने के लिए सभागार में उपस्थित श्रोताओं को प्रेरित भी किया. इस पुस्तक विमोचन कार्यक्रम का मंच संचालन नवोदित लेखिका इशी भनोट ने बेहतरीन तरीके से किया.

Leave a Reply