आरजेएस की पहल पर विश्व भारती योग संस्थान ने मीडियाकर्मियों को सिखायी योग साधना


(द्वारका परिचय न्यूज़ डेस्क)

दिल्ली ; 11 नवम्बर, 2018, लक्ष्मीनगर स्थित प्रियदर्शनी विहार क्लब में 22वींआरजेएस सकारात्मक बैठक-योग के अंतर्गत विश्व भारती योग संस्थान ने मीडियाकर्मियों को योग साधना सिखायी. आरजेएस राष्ट्रीय संयोजक उदय कुमार मन्ना की प्ररेणा से आयोजित योग पर पहली बैठक में योगी कवि आचार्य प्रेम भाटिया ने मीडिया कर्मियों को सर्वप्रथम योग का जीवन में महत्त्व पर आवश्यक जानकारी साझा की. मीडियाकर्मियों के लिए योग प्रशिक्षण कितना सार्थक साबित हो सकता है. इसी विषय पर योगी कवि आचार्य प्रेम भाटिया ने अपने चिर परिचित अन्दाज में योग के बारे में अपने अनुभवों को विस्तार से समझाया. एक घंटे की योग पर चर्चा में उन्होंने बताया कि दूसरों की खबर रखने वालों को अपनी भी खबर लेनी चाहिए। ये चौथे स्तंभ की मजबूती के लिए जरूरी भी है। मीडिया का काम बहुत ही चुनौतीपूर्ण होता है । बाकी पेशा की तरह यहां कुछ भी निश्चित नहीं होता। ऐसे में आधे घंटे की योग साधना उन्हें स्वस्थ जीवन शैली प्रदान करेगी ।कवि के अंदाज में वो कहते हैं

“वैसे तो बातों की कमी नहीं होती ,
मज़ा तो तब है ,जो अमल में लाई गई हो वह बात बताई जाए”।
उनका ये सकारात्मक इशारा मीडियाकर्मियों के दिलों में उतर गया।

उन्होंने कहा कि मीडिया कर्मियों को स्वयं योग साधना का फायदा लेकर ही जन-जन तक योग को प्रभावी ढंग से पहुंचाना चाहिए। बैठक में श्री भाटिया की माताजी श्रीमती शांति भाटिया जी को श्रद्धांजलि दी गई । श्रीमति भाटिया का इसी साल 99 साल 12 दिन की उम्र में निधन हो गया था।
बैठक में दूरदर्शन के शहीद कैमरामैन अच्युतानंद साहू को भी याद किया गया। पिछले 21वीं आरजेएस बैठक में आरजेएस फैमिली ने लोकतंत्र की रक्षा में वीरगति को प्राप्त इस जांबाज कैमरामैन को शहीद का दर्जा दिया था और भविष्य की बैठकों में इन्हें आदर सहित याद किया जाएगा।

11नवंबर 2018 को प्रियदर्शिनी विहार क्लब, दिल्ली के प्रांगण में मीडियाकर्मियों के लिए विश्व भारती योग संस्थान द्वारा आयोजित इस बैठक में योग- चर्चा के बाद क्लब के़ लाॅन में योगाचार्य रमेश चंद्र शर्मा जी के मार्गदर्शन में उपस्थित सभी आरजेएस मीडिया फैमिली को 1 घंटे योग का प्रैक्टिकल भी कराया गया।
इस अवसर पर बैठक के मुख्य अतिथि वर्किंग जर्नलिस्टस ऑफ इंडिया (डब्ल्यू जे आई)के राष्ट्रीय महासचिव वाट्सअप गुरु नरेंद्र भंडारी को शाल ओढ़ाकर तथा समस्त उपस्थित मीडियाकर्मियों को प्रेम भाटिया द्वारा रचित योग पुस्तिका “जाने-जिन्दगी” एवं अनमोल वचनों वाली पट्टिका उपहार स्वरूप भेंट कर सम्मानित किया गया। आरजेएस “जय हिन्द-जय भारत” स्मारिका भी उपस्थित सभी मीडियाकर्यियों एवं योग साधकों को उपहार स्वरूप भेंट की गई.

अपने संबोधन में श्री भंडारी ने आरजेएस राष्ट्रीय संयोजक उदय कुमार मन्ना द्वारा 20 राज्यों की आरजेएस फैमिली में शुरू सकारात्मक भारत अभियान की तारीफ की और कहा कि आरजेएस सकारात्मक बैठकें और सकारात्मक पत्रकारिता की मुहिम एक दिन देश में जरूर रंग लाएगी। उन्होंने देश के मीडिया का आह्वान किया कि मीडिया कर्मियों , आनलाइन मीडिया और न्यू मीडिया संस्थानों के सुनहरे भविष्य के लिए बहुत जल्द भारतीय मजदूर संघ के साथ डब्लू जे आई बहुत जल्द निर्णायक और सार्थक कदम उठाने जा रही है वो तैयार ‌रहें। वरिष्ठ पत्रकार एस.एस.डोगरा के सुझाव को गभीरता से लेते हुए वर्किंग जर्नलिस्टस ऑफ इंडिया (डब्ल्यू जे आई) के राष्ट्रीय महासचिव वाट्सअप गुरु नरेंद्र भंडारी ने दिल्ली सरकार और दिल्ली नगर निगम की सभी लाइब्रेरियों में मीडिया की आधुनिक पुस्तकें रखवाने की दिशा में तुरंत कार्यवाही करने की सरकार से मांग की है. मीडियाकर्मियों को उन्होंने 20 नवंबर 2018 की आई. पी.पी.सी.आई ऑनलाइन परीक्षा और अगली चौथी कार्यशाला में भाग लेने के लिए भी प्रोत्साहित किया। श्री भंडारी ने विश्व भारती योग संस्थान के साधकों को योग का सर्टिफिकेट भी प्रदान किया।

बैठक में भाग लेने वाले सभी आरजेएस मीडिया फैमिली ने मीडिया को बताया कि योग को वे अपनी दिनचर्या में भी शामिल करेंगे क्योंकि पहली बार प्रैक्टिकल करके उन्हें अपार आनंद की अनुभूति हुई है। वे योग के और खासकर योगी कवि प्रेम भाटिया के कायल हो गए। इस बैठक में आरजेएस मीडिया फैमिली के एस.एस.डोगरा, मानव नागर, दुर्गा प्रसाद मिश्रा, प्रखर वार्ष्णेय, अजय शेखर प्रकाश ,दीन दयाल-रेशम दयाल, रूद्र दयाल, अशोक धवन, मनोज टंडन, संजय माही, रामसुरत पासवान, राजेंद्र सिंह यादव, रमा शंकर, आर के दीक्षित ,जुगेंद्र सिंह, पूनम सिंह और आकृति महाराज ने उत्साहपूर्ण उपस्थिति दर्ज की।

बैठक के अंत में आरजेएस राष्ट्रीय संयोजक उदय कुमार मन्ना ने कहा कि एक ही दिन11नवंबर2018 को दिल्ली में योग पर 22वीं बैठक हुई वहीं चित्रकूट में बुंदेली प्रेस क्लब के अध्यक्ष चंद्रप्रकाश द्विवेदी के नेतृत्व में 23वीं आरजेएस सकारात्मक बैठक का आयोजन किया गया। उन्होंने बैठक के सभी प्रतिभागियों को धन्यवाद दिया और श्री भाटिया तथा श्री द्विवेदी का आभार व्यक्त किया।

Leave a Reply