चिराग और मानसी पर फिल्मायी टेलीफिल्म “वैलेंटइश्क़” जल्द ही अंतरार्ष्ट्रीय स्तर पर रिलीज होगी

(एस.एस.डोगरा)

सिनेमा किसी भी समाज का आईना होता है. फिल्मों के प्रति छोटे शहरों के लोगों का विशेष लगाव रहा है. इसी दिशा में अबोहर शहर का नाम इन दिनों बालीवुड और टीवी की दुनिया में एक सितारे की चमक रहा है और अबोहर के कलाकार पूरी दुनिया में अपनी धाक जमा रहे हैं। इसी कड़ी में एक और नाम जुडऩे जा रहा है। वह है अबोहर निवासी और मौजूदा समय में नोयडा रह रहे चिराग नागपाल का, जो एक्टिंग करियर शुरू करते ही डायरेक्शन, एक्टिंग, राइटिंग में छाने लगे हैं। लगभग 7 वीडियोज में काम कर चुके चिराग नागपाल की पहली टेलीफिल्म की शूटिंग अबोहर में बीते दिनों पूरी हुई और जल्द ही यह फिल्म वल्र्ड वाइल्ड रिलीज हो जाएगी।

थ्रीलर, सस्पेंस से भरपूर फिल्म वैलेंटइश्क मात्र 22 मिनट की टेलीफिल्म है, जिसे जशनदीप जिम्मी ने डायरेक्टर किया है। प्यार, रोमांस और धोखे पर आधारित यह टेलीफिल्म दर्शकों को शुरू से लेकर अंत तक बांधे रखेगी। दर्शक पहले 20 मिनट तक स्टोरी के थ्रीलर में ही बंधे रहेंगे और अंत के 2 मिनट में पूरी स्टोरी क्लीयर हो जाएगी। यानि यूं कहें कि सस्पेंस पर सस्पेंस और पूरी कहानी ट्विस्ट और मनोरंजन से भरपूर है। चिराग नागपाल इस फिल्म में लीड रोल निभा रहे हैं। उनके ऑपोजिट दिल्ली की मानसी फुलारा हैं जो मौजूदा समय में कई टेलीविजन धारावाहिकों में काम कर रही हैं। चिराग नागपाल ने द्वारका परिचय से बातचीत में बताया कि वे मौजूदा समय में अनिल कपूर के स्टूडियो में बीजेएमसी कोर्स कर रहे हैं। कोर्स के दौरान ही उन्हें वीडियोज के लिए ऑफर मिलने शुरू हो गये थे। वे एक्टिंग के साथ- साथ, डायरेक्शन, स्टोरी राइटिंग, स्क्रीन प्ले में भी हाथ आजमा रहे हैं। उन्होंने बताया कि इस दौरान उन्होंने पत्रकारिता से जुड़े अनुभव भी हुये हैं। डीडी पंजाबी से संबद्ध अंबे प्रॉडक्शन से अपना कैरियर शुरू करने वाले चिराग नागपाल ने बताया कि वैलेंटइश्क की शूटिंग रूतबा रिसोर्ट, बॉम्बे इंस्टिट्यूट, ग्रेट लुक, फिटनेस क्लब, नई अनाज मंडी में हुई। इस फिल्म को दिल्ली के सिद्धार्थ गुप्ता ने प्रोड्यूस किया है।

भावुक होते हुए चिराग ने बताया कि वे स्वयं पत्रकारिता के छात्र हैं। उन्हें अध्यापको ने पहला काम पढ़ना सिखाया, समाचार पढ़ना न्यूज पेपर पढ़ना ज्यादा नही पढ़ता मै न्यूज पेपर पर हर रोज खोलता और देखता जरूर हुँ कि आज क्या आया है आज हर रोज की तरह जब अखबार खोला तो खुशी का ठिकाना नही था पता नही ये कैसे हुआ किसने न्यूज कवर की मेरी पर आज मेरे शहर के हर अखबार मे मेरे बारे मे मेरी फिल्म के बारे मे लिखा हुआ है. चिराग ने अपनी इस सफलता के लिए अपने अभिभावकों, शिक्षकों, मित्रों एवं शुभचिंतकों का आभार प्रकट किया.

One Response

Leave a Reply