पिट्ठू गेम की विजेता टीम को शिक्षाविद् दयानंद वत्स ने किया पुरस्कृत

बचपन में लगभग हर बच्चे ने पिट्ठू खेल का मजा लिया है। अब इसी पिट्ठू खेल को दिल्ली के स्कूलों में बच्चों की नई पीढी में लोकप्रिय बनाने हेतु डीएवी पब्लिक स्कूल फेज-4,अशोक विहार, दिल्ली के क्रीड़ागन में स्कूल प्रधानाचार्या श्रीमती कुसुम भारद्वाज की अध्यक्षता एवं विशिष्ठ अतिथि दयानंद वत्स के सान्निध्य में मुख्य अतिथि श्री संदीप मारवाह ने पिट्ठू गेम का उद्घघाटन किया।

इस प्रतियोगिता में आलोक भारती स्कूल रोहिणी, क्रिसेंट पब्लिक स्कूल, पीतमपुरा, लिटिल.फैरी पब्लिक स्कूल अशोक विहार. और.डीएवी. पब्लिक स्कूल फेज -4 की टीमों ने.भाग लिया। प्रथम स्थान पर डीएवी पब्लिक स्कूल अशोक.विहार और द्वितीय स्थान पर क्रिसेंट पब्लिक स्कूल, पीतमपुरा की टीम रही। विजेता और.भागीदारी करने.वाली सभी टीमों के खिलाड़ियों को विशिष्ठ अतिथि राष्ट्रीय खेल प्रोत्साहन फॉउंडेशन ट्रस्ट के राष्ट्रीय अध्यक्ष दयानंद वत्स, प्रिंसिपल श्रीमती कुसुम भारद्धाज और आयोजक श्री कमल डोगरा ने अपने कर- कमलों से ट्राफी और प्रमाणपत्र देकर सम्मानित किया। अपने संबोधन में श्री दयानंद वत्स ने कहा कि खेलों का जीवन में महत्वपूर्ण स्थान है। पहले हर गली, कूचे, गांव, बस्ती और शहर में पिट्ठू का खेल बहुत ही लोकप्रिय था। वत्स ने पुनः इस खेल को भावी युवा पीढी में प्रचारित करने हेतु प्रतियोगिताओं के आयोजक देश भर कर स्कूलों और विश्वविद्यालयों में  आयोजन कर रहे श्री कमल डोगरा को बधाई दी। इस अवसर पर डीएवी प्रबंधन समिति से श्रीमती शशिप्रभा चांदला, श्रीमती आदर्श कोहली, सुश्री सुमन चौधरी, श्री राजेन्द्र परिहार,श्री एस के शर्मा, रोटरी क्लब दिल्ली अपटाउन से श्री वी.के जैन सहित कई स्कूलों के प्रधानाचार्य एवं खेल प्रशिक्षक उपस्थित थे।

Leave a Reply