25 दिसंबर 2018को चार प्रदेशों में चार आरजेएस सकारात्मक बैठकें संपन्न

गोरेघाट। अटल जयंती के उपलक्ष्य में मध्य प्रदेश के बालाघाट जिला अंतर्गत कटंगीनगर , में आर.जे.एस सकारात्मक बैठक करने  के बाद पठार क्षेत्र गोरेघाट में 31वीं सकारात्मक बैठक आयोजित की गई। राम-जानकी संस्थान नई दिल्ली द्वारा  सकारात्मक भारत अभियान के अंतर्गत देश के 22 राज्यों में सकारात्मक‌ बैठकें आयोजित की जा रही हैं। भारत को सकारात्मक बनाने की दिशा में सैंकड़ों पत्रकार,पत्रकार संगठन और समाजसेवी कदम आगे बढ़ा चुके हैं।

25 दिसंबर को मध्य प्रदेश, उत्तर प्रदेश, त्रिपुरा और मेघालय में सकारात्मक बैठकें की गई।31 वीं बैठक का आयोजन राष्ट्रीय मीडिया फाउंडेशन जबलपुर संभाग , मध्य प्रदेश के अध्यक्ष आशीष पाण्डेय द्वारा किया गया, जिसमें समाज एवं पत्रकारिता के सन्दर्भ में विचार विमर्श तथा राष्ट्र पुरुष पूर्व प्रधानमंत्री भारत-रत्न अटल बिहारी वाजपेई एवं स्थानीय समाज सेवियों रामदत्त जी तिवारी, देवचंदडहरवाल, चम्बुलाल उचबगले, हरिचंद डहरवाल, चेतराम बिठले के छायाचित्र के समक्ष दीप प्रज्वलित कर उन्हे श्रद्धा सुमन अर्पित कर सकारात्मक बैठक में श्रद्धांजलि अर्पितकी गई और उनके बताए मार्गों पर चलने का निश्चय किया गया।आर.जे.एस. के  राष्ट्रीयसंयोजक उदय कुमार मन्ना की प्रेरणा और मार्गदर्शन में लगभग डेढ़ साल से ये अभियान चलाया जा रहा है।आरजेएस बैठकों के माध्यम से राष्ट्रीय महान आत्माओं और स्थानीय सकारात्मक व्यक्तित्वों के आदर्शों को स्थापित करने के साथ-साथ भारतीय समाज को एक सूत्र में पिरोने की सार्थक पहल की जा रही है। श्री मन्ना ने गोरेघाट की 31वीं बैठक को टेलीफोन से संबोधित करते हुए कहा कि

25दिसंबर को ही गोरेघाट के अलावा देश के अन्य  तीन राज्यों में भी सकारात्मक बैठकें आयोजित की गईं। उ0प्र0 के गाजियाबाद में वरिष्ठ पत्रकार दीनदयाल, जयप्रकाश श्रीवास्तव और राजकुमार यादव‌ के प्रयासों से 30वीं बैठक में भारतरत्न महामना मदनमोहन मालवीय सहित स्थानीय व्यक्तित्व स्व०हीरा पाल ,स्व०सतपाल सिंह यादव को श्रृद्धांजलि अर्पित की गई। बैठक को मुख्य अतिथि पत्रकार वेलफेयर एसोसिएशन के राष्ट्रीय अध्यक्ष जितेंद्र बच्चन ने संबोधित किया और 16जनवरी को दिल्ली में आयोजित डब्ल्यूजेआई मीडिया महा धरना को समर्थन दिया।32वीं बैठक पूर्वोत्तर भारत के दो राज्यों  त्रिपुरा के अगरतल्ला में  समाजसेवी आरजेएस विशाल जैन ने  और 33वीं बैठक मेघालय के शिलांग में आरजेएस संजय माही ने आयोजित की  ,जो अपने आप में एक इतिहास है। ये साबित करता है कि भारत सकारात्मक बनने के लिए तैयार है बस कोशिश करने की जरूरत है। 

मध्यप्रदेश की 31वीं सकारात्मक बैठक  के मुख्य अतिथि मंसाराम उचबगले  और, अध्यक्ष- सकल ब्रम्ह समाजरमाशंकर तिवारी ने  अध्यक्षता की । बैठक के आयोजक राष्ट्रीय मिडियाफाउंडेशन जबलपुर संभाग के मंडल अध्यक्ष आशीषपाण्डेय ने बैठक में आए अतिथियों का स्वागत किया।बैठक में पं. महेश तिवारी, पं.चन्द्रभान तिवारी,मानकलाल डहरवाल, टीकाराम ऐले, अषोक डहरवाल,रमन बिठले, सुखचंद डहरवाल, श्रीमति गीताबाई डहरवाल, धन्नुलाल विरमग-सजये, बालकराम बाघबरले, सालिकराम उचबगले, राजेन्द्र जामुनपाने, सुखराम पटले प्राचार्य, संतोश किरनापुरे, अलय लांजेवार, राजुलकर,सहसराम जामुनपाने के अलावा राष्ट्रीय मिडियाफाउंडेशन के जिला पदाधिकारी राकेश शर्मा, केअलावा अन्य अतिथि में  सुशील उचबगले,गौरव अग्रवाल, सुमित भगत, प्रशांत हुमनेकर, आदिगणमान्य नागरिक और ग्रामीण भारी संख्या में उपस्थित रहे ।सकल ब्रम्ह समाज अध्यक्षरमा शंकर तिवारी ने अपने संबोधन में कहा कि  समाज के उत्थान विकास जनकल्याण कार्योमें  सकारात्मक व्यक्तित्वों द्वारा किये गये योगदान सदैव स्मरणीय रहेंगे। हमसबको उनसे प्रेरणा लेनी चाहिए। उन्होंने आर.जे.एससंस्थान के द्वारा की गयी पहल की सरहाना करते हुएआभार व्यक्त किया और बैठक के सफल आयोजन केलिये आयोजन कर्ता एंव पत्रकार बंधुओ को भीअपनी ओर से धन्यवाद देते हुये कहा कि इस तरह के आयोजनकिये जाने से हमें एक दुसरे को दिशा निर्देश मिलतेहै। हमें उसका अनुशरण कर समाज की मुख्यधारा से जुड़कर कार्य करना होगा। 

सरपंच रमन बिठले ने कहा किसमाज में सकारात्मक विचार होना चाहिये। हमजिसपरिवेश में रहते है। उसमें अच्छे विचारो काआदान प्रदान होना चाहिये। और उन्होंने पत्रकारिता तथा समाज की विसंगतियो को गिनाते हुये उसे दूर कर मुख्य धारा से जोड़ने की अपील की।पत्रकार आशीष पाण्डेय ने‌ गोरेघाट निवासियों के विचारो को अन्य राज्यों में प्रचार प्रसार कर नागरिकोंको प्रेरित किया जाएगा। उन्होंने सकारात्मक बैठक में उपस्थित जनों से कहा कि समाज में फैली बुराईयो कों त्यागना सकारात्मक सोच से ही‌संभव है।  स्वच्छ जीवनजीने अच्छाई ग्रहण करने और अन्य विषयों के सन्दर्भमें भी उन्होने अवगत कराया।उन्होंने राजनीतिक विषयों और वृद्ध जनों के सम्मान को लेकर बैठक करने की घोषणा की।। उन्होने कहा कि आर.जे.एस संस्थानमें काफी संख्या में समाज से  वरिष्ठजन और शहीद परिवार शामिल  हैं।उन्होंने उदाहरण देते हुए कहा कि चन्द्रशेखर आजाद केपोते अमित आज़ाद जी RJS स्टार हैं और  इस संस्थान के‌‌ मार्गदर्शक हैं। जिंदा शहीद मनिंदर जीत सिंह बिट्टा जी इस संस्थान के प्रेरणास्त्रोत और आरजेएस वन्देमातरम् के ब्रांड एंबेसडर हैं।पं. रामदत्त जी तिवारी की स्मृति में सर्वधिक अंक प्राप्त करने वाले प्रतिभाशालीछात्र-ंछात्राओं को  प्रमाण पत्र और पेन तथा कॉपी प्रदान कर सम्मानित किया गया। टलेंसी, कोमल,विनय, सौपनील, योगेन्द्र पटले, लकेष कुलदीप,अराधना गौरव, विरेन्द्र, मंयक, आंचल, महेन्द्रपटले, रूपाली, सोनाली आदि छात्र छात्राओ नेवार्षिक परिक्षा परिणाम 2017-ं18 में सर्वधिक अंकअर्जित कर गौंरवान्वित किया था उन्हे सम्मानित किया गया।

Leave a Reply