आरजेएस लिटिल स्टार ध्रुव त्रेहण के अभिनंदन के साथ ही आरजेएस सकारात्मक भारत मिशन प्रारंभ

राम जानकी संस्थान यानी आरजेएस अपने 22 राज्यों की फैमिली के बच्चों का मनोबल बढ़ाने के लिए कश्मीरी कॉलोनी नजफगढ़ नई दिल्ली में नजफगढ़ संवाद समाचार पत्र द्वारा आयोजित 34वीं आरजेएस सकारात्मक बैठक में आरजेएस स्टार संपादक सुरेश त्रेहण के पौत्र और लव त्रेहण के 12 वर्षीय सुपुत्र ध्रुव त्रेहन के खेलों में उत्कृष्ट प्रदर्शन के लिए टीम आरजेएस द्वारा अभिनंदन किया गया।

आरजेएस के राष्ट्रीय संयोजक उदय कुमार मन्ना ने बैठक के आयोजक सुरेश त्रेहण को पगड़ी पहनाकर स्वागत किया ।श्री मन्ना ने कहा कि 22 राज्यों में सकारात्मक भारत अभियान स्वयं मीडिया कर्मी और समाजसेवी चला रहे हैं, क्योंकि नकारात्मक माहौल में सकारात्मकता की बात  सबको अच्छी लग रही है।समाज के साथ बैठकों सेसामाजिक सरोकार की सकारात्मक पत्रकारिता को बल मिल रहा है।अब सकारात्मक भारत अभियान नये साल में मिशन मोड में कार्यों को सफल करेगा और अगस्त 2019 में आरजेएस वन्देमातरम् के ब्रांड एंबेसडर जिंदा शहीद मनिंदर जीत सिंह बिट्टा जी की उपस्थिति में आरजेएस का रिपोर्टकार्ड प्रस्तुत किया जाएगा। बैठक में हरिभूमि संवाददाता शिवकुमार यादव ने कहा कि पत्रकार समाज का आईना होता है । इसलिए सकारात्मक पत्रकारिता से देश सुरक्षित और उन्नति करता है और सदा इसकी जरूरत रहेगी। बैठक के शुरू मेंगांधीवादी कवि सुमित्रानंदन पंत, स्थानीय निवासी वेदप्रकाश जाडू के पिता जी स्वर्गीय काशीनाथ जाडू और सुरेश त्रेहन की माता जी श्रीमती लक्ष्मी देवी और पिताजी कृष्ण लाल त्रेहन जी को श्रद्धांजलि दी गई औरऔर उनके सकारात्मक कार्यों को याद किया गया। बैठक में वक्ता आरजेएस स्टार समाजसेवी और पूर्व शिक्षा अधिकारी एमसीडी विनोद बंसल , वरिष्ठ पत्रकार रणवीर शौकीन और सुनील पंडित ने कविता पाठ किया।वहीं स्थानीय वरिष्ठ नागरिक रामचंद्र सिंह अशोक गुप्ता रवी जाडू, अशोक हुडा सतीश गुप्ता आदि ने  सकारात्मक भारत अभियान को समर्थन दिया और अपने विचार साझा किए।बैठक के अंत में सभी प्रतिभागियों को आरजेएस और नजफगढ़ संवाद की तरफ से प्रमाण-पत्र प्रदान किए गए।

20 मई 2018 से‌ नजफगढ़ नई दिल्ली से शुरू आरजेएस सकारात्मक बैठकों की श्रृंखला में 22 राज्यों में अबतक 34 बैठकें और एक दर्जन लघु बैठकें आयोजित की गई हैं।सकारात्मक पत्रकारिता को बढ़ावा देने के लिए ‌आईटीपीओ के ट्रेड फेयर2018 को आरजेएस ने समर्थन दिया था। इसी तर्ज पर 5जनवरी2019 से शुरू विश्व पुस्तक मेला और 1फरवरी से शुरू सूरजकुंड हस्तशिल्प मेला को आरजेएस पाॅजिटिव मीडिया टीम अपना समर्थन देकर ज्यादा से ज्यादा भारतीय लेखकों और पुस्तकों और हस्तशिल्पियों का प्रमोशन करेगी।

Leave a Reply