155th birth anniversary of Swami Vivekananda celebrated

वेदांत के शिखर पुरुष थे स्वामी विवेकानंद: दयानंद वत्स

नेशनल एजुकेशनल मीडिया नेटवर्क और अखिल  भारतीय स्वतंत्र पत्रकार एवं लेखक संघ के संयुक्त तत्वावधान में आज उत्तर पश्चिम दिल्ली के रोहिणी स्थित संघ के मुख्यालय बरवाला में स्वामी विवेकानंद की 156 वीं जयंती संघ के राष्ट्रीय महासचिव दयानंद वत्स की अध्यक्षता में राष्ट्रीय युवा दिवस के रुप में सादगी और श्रद्धा पूर्वक मनाई गई। श्री वत्स ने स्वामी विवेकानंद के चित्र पर माल्यार्पण कर कृतज्ञ राष्ट्र की और से अपनी भावभीनी श्रद्धांजलि अर्पित कीइस अवसर पर अपने संबोधन में श्री वत्स ने कहा कि स्वामी विवेकानंद एक महान देशभक्त, प्रखर वक्ता, संत, विचारक और आध्यात्म के शिखर पुरुष थे। स्वामी विवेकानंद ऐसी शिक्षा प्रणाली चाहते थे जो बच्चों का सर्वांगीण कर सके। शिक्षा का उद्देश्य बालक का चरित्र निर्माण होना ही चाहिए ताकि वह जीवन संघर्ष की आंच में तपकर समाजसेवा की ओर अग्रसर हो सके। श्री वत्स ने कहा कि भारतीय युवाओं के लिए स्वामी विवेकानंद का व्यक्तित्व एवं कृतित्व सदैव प्रेरणा स्रोत रहेगा।

Leave a Reply