53वीं पुण्यतिथि पर स्वर्गीय लाल बहादुर शास्त्री को श्रद्धा सुमन अर्पित

 आदर्श ग्रामीण समाज एवं अखिल भारतीय स्वतंत्र पत्रकार एवं लेखक संघ के संयुक्त तत्वावधान में आज उत्तर पश्चिम दिल्ली के रोहिणी स्थित संघ के मुख्यालय बरवाला में संघ के राष्ट्रीय महासचिव  दयानंद वत्स की अध्यक्षता में भारत रत्न पूर्व प्रधानमंत्री स्वर्गीय श्री लाल बहादुर शास्त्री की 53वीं पुण्यतिथि सादगी और श्रद्धा पूर्वक मनाई गई। श्री वत्स ने कृतज्ञ राष्ट्र की और से शास्त्री जी के चित्र पर माल्यार्पण कर उन्हें अपने श्रद्धा सुमन अर्पित किए। इस अवसर पर अपने संबोधन में श्री वत्स ने कहा कि शास्त्री जी सादगी, ईमानदारी और देशभक्ति के पर्याय थे। जय जवान जय किसान के नारे का उदघोष करके उन्होंने पूरे भारत को एकजुट कर 1965 में हुए युद्ध में पाकिस्तान को  धूल चटा दी थी। उन्होने देश को सशक्त नेतृत्व दिया।  पंडित गोबिंद वल्लभ पंत के मुख्यमंत्री काल में शास्त्री जी को पुलिस और परिवहन विभाग की जिम्मेदारी दी गई। उनके कार्यकाल में ही सबसे पहले परिवहन निगम की बसों में महिला संवाहकों की भर्ती की गई थी। यही नहीं जो पुलिस प्रदर्शन आदि में लोगों पर लाठियां चलाती थी उसे भी बदलकर पानी की बौछारों में परिवर्तित कराया। उनका व्यक्तित्व एवं कृतित्व भारतवासियों के लिए सदैव प्रेरणा का स्रोत रहेगा। ताशकंद में शास्त्री जी के आकस्मिक निधन से समूचा भारत शोक में डूब गया था। देश ने अपना एक महान सपूत खो दिया था। पाकिस्तान को करारी शिकस्त देने वाले शास्त्री जी ने दिखा दिया था कि दृढ इच्छा शक्ति के बल पर दुश्मन के दांत खट्टे किए जा सकते हैं।

Leave a Reply