भारतीय सामाजिक चेतना के जुझारू राजनीतिज्ञ यौद्धा थे मनोहर पर्रिकर: दयानंद वत्स

रिपब्लिकन पार्टी ऑफ इंडिया (आठवले) दिल्ली प्रदेश के वरिष्ठ उपाध्यक्ष,  प्रवक्ता एवं.पश्चिमी दिल्ली लोकसभा क्षेत्र से प्रत्याशी शिक्षविद् दयानंद वत्स ने गोवा के मुख्यमंत्री श्री मनोहर पर्रिकर के आकस्मिक निधन पर गहरा शोक प्रकट करते हुए इसे भारतीय राजनीति की अपूरणीय क्षति बताया है। अपने.शोक संदेश में श्री वत्स ने कहा कि मनोहर पर्रिकर भारतीय सामाजिक चेतना के जुझारू राजनीतिक यौद्धा थे।वे एक सुयोग्य राजनीतिज्ञ ही नहीं.थे बल्कि वे एक समाज सुधारक भी थे। उन्होनें गोवा में दयानंद सामाजिक सुरक्षा योजना के तहत राज्य के वरिष्ठ नागरिकों की आर्थिक सहायता की योजना को लागू किया। मनोहर पर्रिकर कला, साहित्य.और सिनेमा के भी मर्मज्ञ थे। उनके प्रयासों से ही भारत का अंतरराष्ट्रीय फिल्म समारोह गोवा में स्थायी रुप से आयोजित किया जा सका। इसके लिए उन्होनें  व्यक्तिगत रुप से सिनेमा के लिए संरचनात्मक ढांचे को सुदृढ किया और आज गोवा विश्व पटल पर अंतरराष्ट्रीय सिनेमा के उन्नयन ओर संवर्धन के जाना जाता है। मनोहर पर्रिकर कैंसर जैसी असाध्य बीमारी के साथ जिस जीवटता के साथ लडे वह उनकी असाधारण इच्छा शक्ति का परिचायक है। वत्स ने कहा कि रिपब्लिकन पार्टी आफ इंडिया(ए)  मनोहर पर्रिकर के निधन से गमजदा है। वे आम आदमी के प्रतीक थे और सादा जीवन उच्च विचार में विश्वास रखते थे। ईमानदारी और.सत्यनिष्ठा उनकी पहचान रही।

Leave a Reply