संगीतोत्सव स्मृति में सरोद और सितार की जुगलबंदी के बीच ठुमरी ने बांंधा समां : दयानंद वत्स

आचार्य अल्लाउद्दीन खान साहब के धर्मपुत्र स्वर्गीय रेबती रंजन देबनाथ की याद में आज नई दिल्ली के त्रिवेणी कला संगम के सभागार में संगीतोत्सव स्मृति विशिष्ठ अतिथि  सुप्रसिद्ध नृत्यांगना उमा शर्मा,  श्री विनय भरतराम, रिपब्लिकन पार्टी आफ इंडिया (ए) के दिल्ली प्रदेश उपाध्यक्ष, प्रवक्ता एवं पश्चिमी दिल्ली से लोकसभा के प्रत्याशी.शिक्षविद् एवं वरिष्ठ पत्रकार.श्री दयानंद वत्स, मशहूर सितार वादक शुभेंद्र राव, सरोदवादक आकाशदीप की गरिमामय उपस्थिति में संपन्न हुआ। 

समारोह की शुरुआत रेबती रंजन देबनाथ की सुपुत्री सुश्री अंजना रॉय के सितारवादन से हुआ। मोहन ब्रदर्स की सरोद एवं सितार की जुगलबंदी के बीच रीटा दवे की ठुमरी ने समां बांध दिया। समारोह का संयोजन एवं संचालन श्री विवेक अग्निहोत्री ने किया।

Leave a Reply