शहीद करतार सिंह सराभा की जयंती पर प्रेस क्लब से राष्ट्रपति भवन पैदल यात्रा और नए जनादेश पर बातचीत के साथ आरजेएस बैठकों की तृतीय श्रृंखला लांच.

(द्वारका परिचय न्यूज डेस्क)

आरजेएस की 64 वीं सकारात्मक बैठक रोजा इफ्तार जामा मस्जिद संसद मार्ग नई दिल्ली में संपन्न.शहीद करतार सिंह सराभा की जयंती पर अलग और अनोखे अंदाज में राजधानी से शुरू हुआ राम जानकी संस्थान,आरजेएस के बैठकों की तृतीय श्रृंखला. अब शीर्ष स्तर के लोगों के साथ भी बैठकें होंगी।

आरजेएस पाॅजिटिव मीडिया के राष्ट्रीय संयोजक उदय कुमार मन्ना के नेतृत्व में 24 मई 2019को प्रेस क्लब दिल्ली से सकारात्मक बैठकों और पत्रकारिता की तृतीय श्रृंखला शुरु हुई। अब शीर्ष स्तर की बैठकें भी आरजेएस मीडिया/समाजसेवी फैमिली की 22 राज्यों में शुरू हो जाएंगी। उन्होंने कहा कि प्रेस क्लब दिल्ली में एकत्रित आरजेएस पॉजिटिव मीडिया के मीडियाकर्मी जनादेश का सम्मान करते हुए नई सरकार से उम्मीद करते हैं कि वर्षों से हो रही नया मीडिया आयोग की मांग पत्रकार सुरक्षा कानून और ऑनलाइन मीडिया आदि को मान्यता दिलाने की तरफ यह सरकार कदम बढ़ाएगी।

इस मौके पर मीडियाकर्मी दीनदयाल,रेशमदयाल, जय प्रकाश श्रीवास्तव, प्रखर वार्ष्णेय और दुर्गा प्रसाद मिश्रा , सुनील मिश्रा ,विशाल ललित, अमित कुमार सिंह, दीपक राय और ऋषिकेश आदि मौजूद रहे। भारी जनादेश पर लोगों से बातचीत के लिए प्रेस क्लब से पैदल यात्रा राष्ट्रपति भवन, नार्थ और साउथ ब्लाॅक , इंडिया गेट तक की गई। तत्पश्चात आरजेएस की 64वीं बैठक-रोजा इफ्तार हुआ। जामा मस्जिद ,संसद मार्ग,नई दिल्ली के इमाम मुहीब उल्ला नदवी साहब से आरजेएस पाॅजिटिव मीडिया ने बातचीत की। शाही इमाम ने बताया कि रमज़ान के माध्यम से राष्ट्रीय एकता को बढ़ावा दिया जा रहा है और भारी जनादेश का सम्मान करते हुए देश में अमन-चैन और शांति की कामना की जा रही है। उन्होंने कहा कि सारी दुनिया के इंसान बराबर हैं और एक ही मां-बाप की औलाद हैं।इज्जत से गुजर बसर करना सबका अधिकार है। इफ्तार की दावत रमज़ान के महीने में एक बड़ा संदेश है।

इससे पहले टीम आरजेएस ने शहीद भगत सिंह के आदर्श करतार सिंह सराभा की जयंती पर उन्हें याद किया,जिन्होंने देश के लिए मात्र 19 साल में फांसी को चुन लिया था। सरदार सराभा ने अमेरिका में गदर पार्टी की स्थापना की थी ।

प्रेस क्लब दिल्ली से जब आरजेएस पॉजिटिव मीडिया का कारवां नॉर्थ ब्लॉक के करीब पहुंचा तो कैमरा देखते ही उमंग और उत्साह से भरे भारत के कोने-कोने से राष्ट्रपति भवन का दर्शन करने आए भारतवासियों ने शपथ ग्रहण लेने जा रही भारत सरकार को दुआएं दी।

आंध्र प्रदेश से आए नागभूषण रावडोला ने कहा कि जनादेश का सम्मान करता हूं। 5 साल अच्छा काम हुआ है ।जीएसटी और मोनेटाइजेशन सफल रहा। अब भारत देश और विदेश में तरक्की करेगा। महाराष्ट्र से आए रमेश बछाव ने कहा कि गरीब के लिए ऐसा पंचप्रधान जिंदगी में नहीं देखा। राज्य सरकार भी अच्छा कार्य कर रही है । लेकिन महाराष्ट्र में सूखे से निपटने के लिए सरकार को कोशिश करनी होगी।कोलकाता से आए एक नवयुवक कमल छाप का झंडा लेकर मिला जिसने मोदी को देखने की इच्छा व्यक्त की । एक पर्यटक ने बताया कि पिछले 5 साल में भी अच्छा कार्य हुआ था अब भरोसा है कि आगे भी अच्छा ही होगा ।एक नौजवान ने कहा कि घरेलू गैस की अच्छी सुविधा ,नोट बदलाव से परिवर्तन और सर्जिकल स्ट्राइक ने जनता के मन में सुरक्षित भारत का भरोसा जगाया है।कुछ लोगों ने कहा कि सर्जिकल स्ट्राइक ने देश का मनोबल बढ़ाया। भारत की विदेश में इज्जत बढ़ी है।

आरटीआई और डेटा के लिए यूनिवर्सल टूल और सिंगल विंडो सिस्टम विकसित करने वाले बेंगलुरु के आईटी एक्सपर्ट सुंदर ने कहा कि कौशल विकास से स्वरोजगार को बढ़ावा मिल रहा है। लेकिन जो इनोवेटिव आइडिया है उसे भी प्रोत्साहन मिलना चाहिए। इंडिया गेट पर हर हर मोदी का नारा भी गुंजायमान हो रहा था।

Leave a Reply