RJS की 73 वीं सकारात्मक बैठक में रानी लक्ष्मीबाई और संत कबीरदास को श्रद्धांजलि

उत्तर प्रदेश गाजियाबाद विजय नगर बाईपास स्थित काशीराम कॉलोनी में RJS रामजानकी संस्थान नई दिल्ली की 73 वीं सकारात्मक बैठक में झाँसी की रानी लक्ष्मीबाई और संत कबीरदास को श्रद्धांजलि दी गई। इसके साथ ही स्थानीय व्यक्तित्व नेत्रपाल की धर्म पत्नी स्वर्गीय ममता देवी को भावभीनी श्रद्धांजलि दी। 

बैठक के आयोजक  डे नाईट इंडिया  टीवी के  दीनदयाल एवं रेशम थे।भारत के 22 राज्यों को  सकारात्मक बनाने और सकारात्मक पत्रकारिता करने का अभियान  RJS के राष्ट्रीय संयोजक उदय कुमार मन्ना जी की अगुवाई में चलाया जा रहा है। इस अभियान में 22 राज्यों के पत्रकार और समाजसेवी परिवार जुड़े हुए है। 73 वीं बैठक की अध्यक्षता मनोज वर्मा ने की। इसके आलावा बैठक में  सत्यजय न्यूज़ के संपादक जयप्रकाश श्रीवास्तव , वरिष्ठ पत्रकार अरुण कुमार लखेड़ा , नेत्रपाल जी , ललित सिंह , आशा कौर , अंजलि एवं रूचि देवी के साथ साथ दो बच्चों ने भी भाग लिया। 

इस अवसर पर ” डे नाईट इंडिया ” टीवी के संपादक एवं आरजेएस स्टार दीन दयाल ने झाँसी की रानी लक्ष्मीबाई और संत कबीर दास जी को श्रद्धांजलि देते हुए कहाकि संत कबीरदास का जीवन सकारात्मक रहा है जबकि झाँसी की रानी लक्ष्मी बाई ने एक वीरांगना महिला का परिचय देते हुए अंग्रेजी शासन को जबर्दस्त चुनौती देते हुए वीरगति को प्राप्त हो गई।  देश आज उनके बलिदान दिवस पर उन्हें याद कर रहा है। उन्होंने बैठक में संत कबीरदास पर अपने विचार व्यक्त करते हुए कहा कि कबीर जी कहते थे कि किताबें पढ़ने से कोई ज्ञानी नहीं होता ढाई अक्षर प्रेम का जो पढ़ लें वह पंडित जाए। साथ ही वह कहते थे कि निंदक को अपने साथ रखिए आपको सही दिशा जाने में मदद करेगा। आरजेएस स्टार रेशम दयाल ने रानी लक्ष्मीबाई की वीरता की प्रशंसा करते हुए उनके जीवन के प्रसंगो का जिक्र किया। उन्होंने कहाकि क्या खूब वीरता के साथ अंग्रेजों को टक्कर दी और अपने जीते जी झाँसी नहीं दी। और अंत में वीरगति को प्राप्त हुई। 

बैठक में नेत्रपाल जी कहाकि कबीर जी का जीवन बड़ा ही सादा था उन्होंने उस काल के पाखंडो के खिलाफ जमकर लोहा लिया। वरिष्ठ पत्रकार अरुण कुमार लखेड़ा ने कहा कि आरजेएस ही एक ऐसी संस्था है जो कि आम लोगों को सम्मान दे रही है और यह बैठकों का दौर जारी रहना चाहिए। जयप्रकाश श्रीवास्तव ने कबीर के जीवन की सकारात्मकता पर प्रकाश डाला। अंत में बैठक की अध्यक्षता करते हुए मनोज वर्मा ने  बैठक में आए सभी लोगों का आभार व्यक्त किया और साथ ही यह भी कहा कि आरजेएस समाज और देश के लिए अच्छा और बड़ा काम कर रहा है।  

Leave a Reply