Category: Articles

देश का विकास केवल मोदी ही नहीं जनता का भी दायित्व है

योगेश मोहनजी गुप्ताकुलपति-आईआईएमटी विश्वविद्यालय-मेरठ भारत विगत 71 वर्षों से लगातार विकासशील देशों की श्रेणी में अग्रणी होने का प्रयास करता रहा है परन्तु अब तक विकसित नहीं हो पाया …

समाज एवं देश को मजबूत करने के लिए योग- अपनाएं इसे राजनैतिक एवं धार्मिक अखाडा न बनाएँ

 एस.एस.डोगरा सर्वे भवन्तु सुखिनः सर्वे सन्तु निरामया।  सर्वे भद्राणि पश्यन्तु मा कश्चित् दुःखभाग् भवेत्।। संस्कृत के उपरोक्त श्लोक का हिंदी में अर्थ है कि सभी सुखी होवें, सभी रोगमुक्त …

पत्रकारिता – एक दौर ऐसा भी..

बात उस दौर की है  जब समाज में व्याप्त अंधविश्वास और कुरीतियां चरम पर थी। ब्रतानियां हुकूमत की लाठियां हिन्दुस्तानियों पर कहर बनकर टूट रही थी। बहु-बेटियों की अस्मत …

आज का वोटर

बानो  आज सुबह भी देर से आई। समीना बड़ बड़ाते  हुए बोलीं  -क्या बात है, आज कल  तुम दो- तीन महीने से जब दिल चाहता है , लेट हो जाती …

आज का वोटर

बानो  आज सुबह भी देर से आई। समीना बड़ बड़ाते  हुए बोलीं  -क्या बात है, आज कल  तुम दो- तीन महीने से जब दिल चाहता है , लेट हो जाती हो। बानो  …

संघर्ष, तपस्या और वेदना के प्रतीक – डॉ. अम्बेडकर !

आर.डी. भारद्वाज  “नूरपुरी ”  भारत के संविधान निर्माता, चिंतक, समाज सुधारक और उचकोटी के विद्वान, बाबा साहेब अम्बेडकर का जन्म 14 अप्रैल, 1891 को हुआ था. उनके पिता का नाम …

Ten Commandments of Love

1. जन्म से हमारी वृति गलत तरीके से प्रशिक्षित हुई है । हमें लगता है की हम बचपन से ही प्रेम की कला में निपूर्ण हैं और यह वृति …

आई लव यू

रूहानी अपने घर के आँगन में अपनी सहेलियों के साथ खेल रही थी, कि अचानक उसके घर के सामने एक चमचमाती हुई कार आ कर रूकी। रूहानी अपना खेल …